टूट भी जाऊँ तो तेरा क्या है-Toot Bhi Jau To Tera Kya Hai | Tehzeeb Hafi | Best Voice And Words

टूट भी जाऊँ तो तेरा क्या है-Toot Bhi Jau To Tera Kya Hai | Tehzeeb Hafi | Best Voice And Words–Hindi Poetry-कविता-Hindi Poem | Kavita 

 

टूट भी जाऊँ तो तेरा क्या है
रेत से पूछ आइना क्या है

फिर मेरे सामने उसी का ज़िक्र
आपके साथ मसला क्या है

सब परिंदों से प्यार लूँगा मै
पेड़ का रूप धर लूँगा मै

तू निशाने में आ भी जाये अगर,
कौन सा तीर मार लूँगा मै

Tehzeeb Hafi

Leave a Reply