romantic songs lyrics hindi

romantic songs lyrics hindi

 

पलट मेरी जान – Palat Meri Jaan (Asha Bhosle, Aan Milo Sajna)

Movie Name /Album Name- आन मिलो सजना (1970)
Music Producer/Music By- लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- आनंद बक्षी
Singers/Performed By- किशोर कुमार, लता मंगेशकर

पलट मेरी जान, तेरे कुर्बान, ओ तेरा ध्यान किधर है
ऊँची-नीची टेढ़ी-मेढ़ी प्यार की डगर है
जाता किधर है, रस्ता इधर है (आजा)
ओय ओय..
पलट मेरी जान…

आया क्या ज़माना लड़के लड़कियों से डरते हैं
आँखे ये चुराके छुपके गली से गुज़रते हैं
ये मर्दों के नाम को बदनाम करते हैं
ए पलट
पलट मेरी जान…

सोचा था ये मैंने, मुझसे नयन वो लड़ायेगा
सीटी वो बजा के, कोई फ़िल्मी गीत गायेगा
ना जाना था घर का रस्ता भूल जायेग
ए, ए, ए, ए
पलट मेरी जान…

माहिया, वे सिपाहिया, आजा वे जा ठण्डी छाँव में
सदके तेरे बच के कंदा चुभ न जाये पाँव में
बन जा मेरा मेहमान इस अनजान गाँव में
अरे पलट!
पलत मेरी जान…

का करूँ सजनी – Ka Karun Sajni (Yesudas, Swami)

Movie Name /Album Name- स्वामी (1977)
Music Producer/Music By- राजेश रोशन
Lyrics Writer/Lyrics by- अमित खन्ना
Singers/Performed By- येसुदास

का करूँ सजनी, आए न बालम
खोज रही हैं पिया परदेसी अँखियाँ
आए न बालम

जब भी कोई, आहट होए, मनवा मोरा भागे
देखो कहीं, टूटे नहीं, प्रेम के ये धागे
है मतवारी प्रीत हमारी, छुपे न छुपाए, छुपे न छुपाए
सावन हो तुम, मैं हूँ तोरी बदरिया
आये न बालम
का करूँ सजनी…

भोर भई और, साँझ ढली रे, समय ने ली अंगड़ाई
ये जग सारा, नींद से हारा, मोहे नींद न आई
मैं घबराऊँ, डर डर जाऊँ, आए वो न आए, आए वो न आए
राधा बुलाए कहाँ खोए हो कन्हैय्या
आए न बालम
का करूँ सजनी…

मैं तो हर मोड़ पर – Main To Har Mod Par (Mukesh, Chetna)

Movie Name /Album Name- चेतना (1970)
Music Producer/Music By- सपन जगमोहन
Lyrics Writer/Lyrics by-नक्श ल्यालपुरी
Singers/Performed By- मुकेश

मैं तो हर मोड़ पर तुझको दूँगा सदा
मेरी आवाज़ को, दर्द के साज़ को, तू सुने ना सुने

मुझे देखकर कह रहे हैं सभी
मोहब्बत का हासिल है दीवानगी
प्यार की राह में, फूल भी थे मगर
मैंने कांटे चुने
मैं तो हर मोड़ पर…

जहाँ दिल झुका था वहीँ सर झुका
मुझे कोई सजदों से रोकेगा क्या
काश टूटे ना वो, आरज़ू में मेरी
ख्वाब हैं जो बुने
मैं तो हर मोड़ पर…

Sad
मेरी ज़िन्दगी में वो ही गम रहा
तेरा साथ भी तो बहुत कम रहा
दिल ने, साथी मेरे, तेरी चाहत में थे
ख्वाब क्या क्या बुने
मैं तो हर मोड़ पर…

तेरे गेसूओं का वो साया कहाँ
वो बाहों का तेरी सहारा कहाँ
अब वो आँचल कहाँ, मेरी पलकों से
जो भीगे मोती चुने
मैं तो हर मोड़ पर…

कह दूँ तुम्हें – Keh Doon Tumhen (Kishore Kumar, Asha Bhosle, Deewaar)

Movie Name /Album Name- दीवार (1975)
Music Producer/Music By- आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- साहिर लुधियानवी
Singers/Performed By- किशोर कुमार, आशा भोंसले

कह दूँ तुम्हें, हाँ
या चुप रहूँ, ना
दिल में मेरे आज क्या है, क्या है
कह दूँ तुम्हें या चुप रहूँ
दिल में मेरे आज क्या है
जो बोलो तो जानूँ, गुरू तुमको मानूँ
चलो ये भी वादा है
अच्छा
कह दूँ तुम्हें…

सोचा है तुमने कि चलते ही जाएँ
तारों से आगे कोई दुनिया बसाएँ
ठीक है? अहाँ
तो तुम बताओ? बताऊँ? हाँ
सोचा ये है कि तुम्हें रस्ता भुलाएँ
सूनी जगह पे कहीं छेड़ें डराएँ
हाय रे ना ना, ये ना करना
अरे नहीं रे, नहीं रे, नहीं रे, नहीं रे, नहीं नहीं
कह दूँ तुम्हें…

सोचा है तुमने कि कुछ गुनगुनाएँ
मस्ती में झूमें ज़रा धूमें मचाएँ
अब ठीक है? उहूँ
तो तुम बताओ ना? बताऊँ? हाँ
सोचा ये है कि तुम्हें नज़दीक लाएँ
फूलों से होंठों की लाली चुराएँ
हाय रे ना ना, ये ना करना
अरे नहीं रे, नहीं रे, नहीं रे, नहीं रे, नहीं नहीं
कह दूँ तुम्हें…

बचना ऐ हसीनों – Bachna Ae Haseenon (Kishore Kumar, Hum Kisise Kam Naheen)

Movie Name /Album Name- हम किसी से कम नहीं (1977)
Music Producer/Music By- आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- मजरूह सुल्तानपुरी
Singers/Performed By- किशोर कुमार

बचना ऐ हसीनों, लो मैं आ गया
हुस्न का आशिक़, हुस्न का दुश्मन
अपनी अदा है यारों से जुदा
बचना ऐ हसीनों…

है, दुनिया में नहीं है, आज मेरा सा दीवाना
प्यार वालों की जुबां पे, है मेरा ही तराना
सबकी रंग भरी आँखों में आज, चमक रहा है मेरा ही नशा
बचना ऐ हसीनों…

जाम मिलतें हैं अदब से, शाम देती है सलामी
गीत झुकते है लबों पे, साज़ करते हैं गुलामी
हो कोई परदा हो या बादशाह, आज तो सभी हैं मुझपे फ़िदा
बचना ऐ हसीनों…

एक हंगामा उठा दूं, मैं तो जाऊं जिधर से
जीत लेता हूँ दिलों को, एक हल्की सी नज़र से
महबूबों की महफ़िल में आज, छायी है छायी है मेरी ही अदा
बचना ऐ हसीनों…

आया रे खिलोनेवाला – Aaya Re Khilonewala (Md.Rafi, Bachpan)

Movie Name /Album Name- बचपन (1970)
Music Producer/Music By- लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- आनंद बक्षी
Singers/Performed By- मो.रफ़ी

आया रे खिलोनेवाला खेल खिलोने ले के आया रे, आया रे
आओ मेरी आखों के तारो, कहाँ गए ओ मेरे प्यारो
आया रे खिलोनेवाला…

शोर क्यों मचाती है ये बरखा दीवानी
बरसा घटाओं से लाखों मन पानी
मेरी तरह तुम कब रोये हो ओ सावन के नज़ारों
आया रे खिलोनेवाला…

भरी हैं कलियों से हर बाग़ की डाली
मेरी तो झोली में दो फूल थे खाली
छिन लिए वो भी कहीं तुमने ओ बेईमान बहारों
आया रे खिलोनेवाला…

देखो मैंने गुड्डे की शादी है रचाई
मेरी प्यारी गुड़िया की बारात है आई
गोरी चली बाबुल के घर से, डोली ले आओ कहारों
आया रे खिलोनेवाला…

अँखियों को रहने दे – Akhiyon Ko Rehne De (Lata Mangeshkar, Bobby)

Movie Name /Album Name- बॉबी (1973)
Music Producer/Music By- लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- आनंद बक्षी
Singers/Performed By- लता मंगेशकर

टूट के दिल के टुकड़े टुकड़े हो गए मेरे सीने में
आ गले लगके मर जाएं, क्या रखा है जीने में

अँखियों को रहने दे, अँखियों के आस पास
दूर से दिल की बुझती रहे प्यास

दर्द ज़माने में कम नहीं मिलते
सबको मोहब्बत के ग़म नहीं मिलते
टूटने वाले दिल होते हैं कुछ खास
दूर से दिल की…

रह गई दुनिया में नाम की खुशियाँ
तेरे मेरे किस काम की खुशियाँ
सारी उमर हमको रहना है यूँ उदास
दूर से दिल की…

हम तुम एक कमरे में – Hum Tum Ek Kamre Mein (Lata Mangeshkar, Shailendra Singh, Bobby)

Movie Name /Album Name- बॉबी (1973)
Music Producer/Music By- लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- आनंद बक्षी
Singers/Performed By- लता मंगेशकर, शैलेन्द्र सिंह

बाहर से कोई अन्दर न आ सके
अन्दर से कोई बाहर न जा सके
सोचो कभी ऐसा हो तो क्या हो
सोचो कभी ऐसा हो तो क्या हो

हम तुम, इक कमरे में बन्द हों
और चाभी खो जाये
तेरे नैनों के भूल भुलैय्या में
बॉबी खो जाये
हम तुम एक कमरे में…

आगे हो घनघोर अन्धेरा (बाबा मुझे डर लगता है)
पीछे कोई डाकू लुटेरा (उँ, क्यों डरा रहे हो)
आगे हो घनघोर अन्धेरा, पीछे कोई डाकू लुटेरा
उपर भी जाना हो मुशकिल, नीचे भी आना हो मुशकिल
सोचो कभी ऐसा हो तो क्या हो, सोचो कभी ऐसा हो तो क्या हो
हम तुम कहीं को जा रहे हों, और रस्ता भूल जाये
तेरी बैय्याँ के झूले में सैय्याँ, बॉबी झूल जाये
हम तुम एक कमरे में…

बस्ती से दूर, परबत के पीछे, मस्ती में चूर घने पेड़ों के नीचे
अन्देखी अन्जानी सी जगह हो, बस एक हम हो दूजी हवा हो
सोचो कभी ऐसा हो तो क्या हो, सोचो कभी ऐसा हो तो क्या हो
हम तुम एक जंगल से गुज़रें, और शेर आ जाये
शेर से मैं कहूँ तुमको छोड़ के, मुझे खा जाये
हम तुम एक कमरे में…

ऐसे क्यों खोये खोये हो, जागे हो कि सोये हुए हो
क्या होगा कल किसको खबर है, थोड़ा सा मेरे दिल में ये डर है
सोचो कभी ऐसा हो तो क्या हो, सोचो कभी ऐसा हो तो क्या हो
हम तुम, यूँ ही हँस खेल रहे हों, और आँख भर आये
तेरे सर की क़सम तेरे ग़म से, बॉबी मर जाये
हम तुम एक कमरे में…

मुझे कुछ कहना है – Mujhe Kuch Kahna Hai (Lata Mangeshkar, Shailendra Singh, Bobby)

Movie Name /Album Name- बॉबी (1973)
Music Producer/Music By- लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- आनंद बक्षी
Singers/Performed By- लता मंगेशकर, शैलेन्द्र सिंह

मुझे कुछ कहना है
मुझे भी कुछ कहना है
पहले तुम, पहले तुम

देखो, जिस तरह लखनऊ के दो नवाबों की गाड़ी
पहले आप, पहले आप, पहले आप
पहले आप करते निकल गयी थी
उस तरह हमारी पहले तुम, पहले तुम, पहले तुम
पहले तुम में ये मस्ती भरी रूठ ना चली जाए

अच्छा, मै कहती हूँ
अक्सर कोई लड़की इस हाल मे
किसी लड़के से सोलहवें साल मे
जो कहती है वो मुझे कहना है
अक्सर कोई लड़का इस हाल मे
किसी लड़की से सोलहवें साल मे
जो कहता है वो मुझे कहना है
अक्सर कोई लड़की…

ना आँखों में नींद, ना दिल में करार
यही इंतज़ार, यही इंतज़ार
तेरे बिना कुछ भी अच्छा नहीं लगता
सब झूठा लगता है, सच्चा नहीं लगता
ना घर में लगे दिल, ना बाहर कहीं पर
बैठी हूँ कहीं पर, खोयी हूँ कहीं पर
अरे कुछ ना कहूँ, चुप रहूँ
मै नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं पर
अब मुश्किल चुप रहना है
मुझे कुछ कहना है…

मुझे रात दिन नहीं और काम
कभी तेरी याद, कभी तेरा नाम
सब रंग दुनिया के फीके लगते हैं
एक तेरे बोल बस मीठे लगते हैं
लिखे हैं बस तेरे सजदे इस ज़मीं पर
जिंदा हूँ मैं तेरी बस हाँ पर नहीं पर
अरे कुछ ना कहूँ, चुप रहूँ
मै नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं पर
अब मुश्किल चुप रहना है
मुझे कुछ कहना है…

मिले हमको फूल के कांटें मिले
वहाँ जा बसे, वहाँ जा रहे
तुझे मिलने में जहाँ डर ना हो कोई
पिया के सिवाय दूजा घर ना हो कोई
क्या ऐसी जगह है कोई इस ज़मीं पर
रहने दे बात को यहाँ पर, यहीं पर
अरे कुछ ना कहूँ, चुप रहूँ
मै नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं पर
अब मुश्किल चुप रहना है
मुझे कुछ कहना है…

ना चाहूँ सोना चांदी – Na Chaahun Sona Chandi (Manna Dey, Shailendra Singh, Bobby)

Movie Name /Album Name- बॉबी (1973)
Music Producer/Music By- लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- आनंद बक्षी
Singers/Performed By- मन्ना डे, शैलेन्द्र सिंह

न चाहूँ सोना चांदी, न चाहूँ हीरा मोती
ये मेरे किस काम के
न मांगूँ बंगला बाड़ी, न मांगूँ घोड़ा-गाड़ी
ये तो हैं बस नाम के
देता है दिल दे, बदले में दिल के
घे घे घे घे घे, दे रे साहिबा
प्यार में सौदा नहीं

न जानूं मुल्ला काज़ी, न जानूं काबा कशी
मैं तो हूँ प्रेम पियासा रे
मेरे सपनों की रानी, होगी तुमको हैरानी
मैं तो तेरा दीवाना रे
देती है दिल…

जवानी ओ दीवानी – Jawani O Deewani (Kishore Kumar, Aan Milo Sajna)

Movie Name /Album Name- आन मिलो सजना (1970)
Music Producer/Music By- लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- आनंद बक्षी
Singers/Performed By- किशोर कुमार, लता मंगेशकर

यहाँ वहाँ सारे जहां में तेरा राज है
जवानी ओ दीवानी तू ज़िंदाबाद
तेरे ही तो सर पे मुहब्बत का ताज है
जवानी ओ दीवानी तू ज़िंदाबाद

तू बहारों का इशारा, बेसहारों का सहारा
सर पे तेरे, हाँ हाँ तेरे बोझ है सारा
तेरे जवाँ हाथों में दुनिया की लाज है
जवानी ओ दीवानी…

तेरे लिये कसमें नहीं, कसमें नहीं, रसमें नहीं
तू किसी के, हाँ किसी के बस में नहीं
जुदा सभी रसमों से तेरा हर रिवाज है
जवानी ओ दीवानी…

पीछे है बचपन दीवाना, आगे बुढ़ापा सयाना
साथ तेरे, हाँ हाँ तेरे है ये ज़माना
तेरी नज़र तो चाँद तारों पे आज है
जवानी ओ दीवानी…

कहाँ तक ये मन को – Kahan Tak Ye Mann Ko (Kishore Kumar, Baaton Baaton Mein)

Movie Name /Album Name- बातों बातों में (1979)
Music Producer/Music By- राजेश रोशन
Lyrics Writer/Lyrics by- योगेश
Singers/Performed By- किशोर कुमार

कहाँ तक ये मन को अँधेरे छलेंगे
उदासी भरे दिन, कभी तो ढलेंगे

कभी सुख, कभी दुःख, यही ज़िन्दगी है
ये पतझड़ का मौसम, घड़ी दो घड़ी है
नए फूल कल फिर डगर में खिलेंगे
उदासी भरे दिन…

भले तेज़ कितना हवा का हो झोंका
मगर अपने मन में तू रख ये भरोसा
जो बिछड़े सफ़र में तुझे फिर मिलेंगे
उदासी भरे दिन…

कहे कोई कुछ भी, मगर सच यही है
लहर प्यार की जो, कहीं उठ रही है
उसे एक दिन तो, किनारे मिलेंगे
उदासी भरे दिन…

मेरे दिल में आज क्या है – Mere Dil Mein Aaj Kya Hai (Kishore Kumar, Daag)

Movie Name /Album Name- दाग (1973)
Music Producer/Music By- लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- साहिर लुधियानवी
Singers/Performed By- किशोर कुमार

मेरे दिल में आज क्या है, तू कहे तो मैं बता दूँ
तेरी ज़ुल्फ़ फिर सवारूँ, तेरी मांग फिर सजा दूँ

मुझे देवता बनाकर, तेरी चाहतों ने पूजा
मेरा प्यार कह रहा है, मैं तुझे खुदा बना दूँ
मेरे दिल में आज…

कोई ढूंढने भी आये, तो हमे ना ढूंढ पाए
तू मुझे कहीं छूपा दे, मैं तुझे कही छूपा दूँ
मेरे दिल में आज…

मेरे बाजुओं में आकर तेरा दर्द चैन पाए
तेरे गेसुओं में छूपकर, मैं जहां के गम भूला दूँ
मेरे दिल में आज…

मेरे नैना सावन भादो – Mere Naina Saawan Bhaado (Kishore, Lata, Mehbooba)

Movie Name /Album Name- महबूबा (1976)
Music Producer/Music By- आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- आनंद बक्षी
Singers/Performed By- लता मंगेशकर, किशोर कुमार

मेरे नैना सावन भादो, फिर भी मेरा मन प्यासा

ऐ दिल दीवाने, खेल है क्या जाने
दर्द भरा ये गीत कहाँ से, इन होठों पे आए
दूर कहीं ले जाए
भूल गया क्या, भूल के भी है, मुझको याद जरा सा
फिर भी मेरा…

बात पुरानी है, एक कहानी है
अब सोचूं तुम्हें याद नहीं है, अब सोचू नहीं भूले
वो सावन के झूले
रुत आए, रुत जाए देकर झूठा एक दिलासा
फिर भी मेरा…

बरसों बीत गए, हमको मिले बिछड़े
बिजुरी बनकर गगन पे चमकी बीते समय की रेखा
मैंने तुमको देखा
मन संग आँख मिचौली खेले, आशा और निराशा
फिर भी मेरा…

घुँघरू की छमछम, बन गयी दिल का गम
डूब गया दिल यादों में उभरी बेरंग लकीरें
देखो ये तस्वीरें
सूने महल में नाच रही है अब तक इक रक्कासा
फिर भी मेरा…

Leave a Reply