Romantic old bollywood songs

post Contents ( Hindi.Shayri.Page)

Romantic old bollywood songs | Romantic old bollywood songs Lyrics

मैं हूँ हसीना – Main Hoon Haseena (Poonam Dhillon, Amit Kumar, Poonam)

Movie Name /Album Name-: पूनम (1981)
Music Producer/Music By-: अनु मलिक
Lyrics Writer/Lyrics by- : हसरत जयपुरी
Singers/Performed By: पूनम ढिल्लन, अमित कुमार

मैं हूँ हसी,ना खोल दरवाज़ा दिल का
आ गया दीवाना तेरा
कब से खड़ा हूँ तेरे दर पे ओ जानम
ले ले दिल नज़राना मेरा

हे आँखें मिलायी जिससे तूने सनम
तीर चलाये जिसके दिल पे सनम
वो दीवाना तेरे प्यार में खोया सा
इसको दे के चला आया
हो मैं हूँ हसीना…

बात ये क्या है मुझे तरसाती क्यों है
चेहरा दिखा के मुझे छुप जाती क्यों है
जान ना ले ले तेरी शरारत
संगदिल यूँ न सता
मैं हूँ हसीना…

हाय रे हाय मुझे पागल बनाये
संग हवा के तेरी खुशबू जो आये
रुत हसीं है, हम तुम जवाँ हैं
पास मेरे आ भी जा
मैं हूँ हसीना…

सारा जहां छोड़ के – Saara Jahaan Chhod Ke (Md.Rafi, Usha Mangeshkar, Wardat)

Movie Name /Album Name-: वारदात (1981)
Music Producer/Music By-: बप्पी लाहिड़ी
Lyrics Writer/Lyrics by- : रमेश पंत
Singers/Performed By: मोहम्मद रफी, ऊषा मंगेशकर

सारा जहां छोड़ के तुझे मैंने सलाम किया है
तूने भी क्या कोई ऐसा काम किया है
मैंने तो खुद अपना जीना हराम किया है
जिस दिन से हाथ तेरा थाम लिया है
सारा जहां छोड़ के…

तू चाहे प्यार ना कर, मैं तो तुझे ही चाहूँगी
जहाँ भी तू जाएगा पीछे-पीछे आऊँगी
मुझको पाना है तो मेरा पीछा छोड़ दे
सारा जहाँ छोड़ के…

मेरी तो आदत है, इसे उसे दिल देने की
और कोई मेरी बनी, तो फिर तू क्या कर लेगी
जोगन बन के गली-गली में गाना गाऊँगी
मैंने तो खुद अपना जीना…

सारा जहाँ छोड़ के तुझे मैंने सलाम किया है
तूने भी क्या कोई ऐसा काम किया है
ओ थाम लिया है, ओ काम किया है

ताकी ओ ताकी – Taki O Taki (Kishore Kumar, Asha Bhosle, Himmatwala)

Movie Name /Album Name-: हिम्मतवाला (1983)
Music Producer/Music By-: बप्पी लाहिड़ी
Lyrics Writer/Lyrics by- : इंदीवर
Singers/Performed By: किशोर कुमार, आशा भोंसले

हे ताकी हो ताकी हो ताकी ताकी ताकी रे
जबसे तू आँखों में झाँकी
ताकी हो ताकी हो ताकी ताकी ताकी रे
जबसे मैं आँखों में झाँकी
अरे आपस में ताकधिन ताकधिन हो गया
अब क्या रह गया बाकी
ताकी हो ताकी…

कैसी ये लगन है, कैसी ये अगन है
मिल के मन भरे नहीं, कैसा ये मिलन है
खिला खिला बदन है, गालों में चमन है
नए नए प्यार की, नैनों में किरण है
अरे आपस में ताकधिन…

मेरा दिलदार तू, मुझे इकरार है
सारा जग जान गया, तेरा-मेरा प्यार है
हो के बदनाम और, हुए मशहूर हम
अब सारी ज़िन्दगी, होंगे नहीं दूर हम
अरे आपस में ताकधिन…

परदेस जा के परदेसिया – Pardes Jaa Ke Pardesiya (Lata Mangeshkar, Arpan)

Movie Name /Album Name-: अर्पण (1983)
Music Producer/Music By-: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: लता मंगेशकर

परदेस जा के परदेसिया
भूल न जाना पिया
तन-मन किसी ने तुझे अर्पण किया
परदेस जा के परदेसिया…

इक तेरी ख़ुशी के कारण
लाख सहे दुख हमने ओ साजन
हँस के जुदाई का ज़हर पिया
परदेस जा के परदेसिया…

दिल में तेरा प्यार बसाया
दिल को जैसे रोग लगाया
सारी उमर का दर्द लिया
परदेस जा के परदेसिया…

अब जाओगे कब आओगे
जब आओगे तब आओगे
इतने दिन है कौन जीया
परदेस जा के परदेसिया…

कौन दिसा में – Kaun Disa Mein (Hemlata, Jaspal Singh, Nadiya Ke Paar)

Movie Name /Album Name-: नदिया के पार (1982)
Music Producer/Music By-: रविन्द्र जैन
Lyrics Writer/Lyrics by- : रविन्द्र जैन
Singers/Performed By: हेमलता, जसपाल सिंह

कौन दिसा में ले के चला रे बटुहिया
ए ठहर-ठहर, ये सुहानी सी डगर
जरा देखन दे, देखन दे
मन भरमाये नयना बाँधे ये डगरिया
कहीं गए जो ठहर, दिन जाएगा गुजर
गाड़ी हाँकन दे, हाँकन दे
कौन दिसा में…

पहली बार हम निकले हैं घर से
किसी अंजाने के संग हो
अनजाने से पहचान बढ़ेगी तो
महक उठेगा तोरा अंग हो
महक से तू कहीं बहक न जाना
न करना मोहे तंग हो
तंग करने का तोसे नाता है गुजरिया
हे ठहर ठहर…

कितनी दूर अभी कितनी दूर है
ए चंदन तोरा गाँव हो
कितना अपना लगने लगे
जब कोई बुलाये ले के नाम हो
नाम न ले तो क्या कह के बुलायें
कैसे चरायें काम हो
साथी मितवा या अनाड़ी कहो गोरिया
कहीं गये जो ठहर…

ए गुंजा, उस दिन तोरी सखियाँ
करती थीं क्या बात हो
कहतीं थीं तोरे साथ चलन कोसो
आ गए हम तोरे साथ हो
साथ अधूरा तब तक जब तक
पूरे ना हो फ़ेरे सात हो
अबही तो हमरी है बाली रे उमरिया
ठहर ठहर…

जनम जनम का साथ – Janam Janam Ka Saath (Md.Rafi, Lata Mangeshkar, Bheegi Palkein)

Movie Name /Album Name-: भीगी पलकें (1982)
Music Producer/Music By-: तिलक राज
Lyrics Writer/Lyrics by- : एम जी हशमत
Singers/Performed By: मोहम्मद रफी, लता मंगेशकर

मो.रफ़ी, लता मंगेशकर
जनम जनम का साथ है तुम्हारा हमारा
तुम्हारा हमारा
अगर न मिलते इस जीवन में
लेते जनम दुबारा
जनम जनम का साथ…

जबसे घूमे धरती सूरज चाँद सितारे
तबसे मेरी निगाहें समझें तेरे इशारे
रूप बदल कर साजन
मैंने फिर से तुम्हें पुकारा
जनम जनम का साथ…

प्यार के पँख लगा के दूर कहीं उड़ जायें
जहाँ हवायें ग़म की हम तक पहुँच न पायें
ख़ुशियों की ख़ुश्बू से महके
घर संसार हमारा
जनम जनम का साथ…

लता मंगेशकर
जनम जनम का साथ था तुम्हारा हमारा
जीवन साथी बन के तूने हमसे किया किनारा
जनम जनम का साथ…

ये रस्मों के बंधन, कसमों की दीवारें
इनको तोड़ के कैसे, बाकी उम्र गुज़ारें
इस उलझन में उलझ रहा है
मन क्यों आस का मारा
जनम जनम का साथ…

सारी दुनिया सोए, नींद मुझे न आए
रात के सूनेपन में, नैन मेरे भर आए
आँसूँ बन के क्यों आँखों से
छलके प्यार तुम्हारा
जनम जनम का साथ…

प्रीतम आन मिलो – Pritam Aan Milo (Sapan Chakraborty, Angoor)

Movie Name /Album Name-: अंगूर (1982)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : गुलज़ार
Singers/Performed By: सपन चक्रवर्ती

प्रीतम आन मिलो, प्रीतम आन मिलो
हो दुखिया जीवन कैसे बिताऊँ
प्रीतम आन मिलो

रात अकेले डर लगता है
जंगल जैसा घर लगता है
चलती हैं जब तेज़ हवाएँ
लहराता हंटर लगता है
कितने हंटर खाऊँ
प्रीतम आन मिलो…

बिरहा में कोई बोल रहा है
पीड़ा का रस घोल रहा है
फिर से जान लबों पर आयी
फिर कोई घूँघट खोल रहा है
मुखड़ा कैसे छुपाऊँ
प्रीतम आन मिलो…

एक बात सुनी है – Ek Baat Suni Hai (Shatrughan Sinha, Sushma Shreshtha, Naram Garam)

Movie Name /Album Name-: नरम गरम (1981)
Music Producer/Music By-: आर डी बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : गुलज़ार
Singers/Performed By: शत्रुघ्न सिन्हा, सुषमा श्रेष्ठ

एक बात सुनी है चाचाजी, बतलाने वाली है
अरे घर में एक अनोखी चीज़ आने वाली है
हाँ रे भैया ने फिर कोई लड़की देखी है
तेरी चाची बुलडोज़र, आने वाली है
एक बात सुनी है…

दिन और रात की खिटपिट होगी, हॉर्न बजायेगी
अच्छे ख़ासे घर को वो गराज बनायेगी
अरे आपको ऐंवई चाची से खतरा लगता है
शादी हो जाये तो देखें कैसा लगता है
अरे आयेगी ही अब तो, वो जो आने वाली है
एक बात सुनी है…

जाने अब क्या होगा वो क्या हाल बनायेगी
मुँह से खाता था वो नाकों चने चबाएगी
गोभी आलू बने तो कहना आलू गोभी दे
हार न खाना, मार न खाना, बाकी जो भी दे
अरे आयेगी ही अब…

ज़िन्दगी दर्द का दूसरा नाम – Zindagi Dard Ka Doosra Naam (Amit Kumar, Saaransh)

Movie Name /Album Name-: सारांश (1984)
Music Producer/Music By-: अजीत वर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : वसंत देव
Singers/Performed By: अमित कुमार

हर घड़ी ढल रही शाम है ज़िन्दगी
दर्द का दूसरा नाम है ज़िन्दगी
हर घड़ी ढल रही…

आसमाँ है वही, और वही है ज़मीं
है मकाँ ग़ैर का, ग़ैर है या हमीं
अजनबी आँख सी आज है ज़िन्दगी
दर्द का दूसरा…

क्यूँ खड़े राह में, राह भी सो गई
अपनी तो छाँह भी, अपने से खो गई
भटके हुए पंछी की रात है ज़िन्दगी
दर्द का दूसरा…

ये बता दे मुझे – Ye Bata De Mujhe (Jagjit Singh, Chitra Singh, Saath Saath)

Movie Name /Album Name-: साथ साथ (1982)
Music Producer/Music By-: कुलदीप सिंह
Lyrics Writer/Lyrics by- : जावेद अख्तर
Singers/Performed By: जगजीत सिंह, चित्रा सिंह

ये बता दे मुझे ज़िन्दगी
प्यार की राह के हमसफ़र, किस तरह बन गये अजनबी
ये बता दे मुझे ज़िन्दगी
फूल क्यों सारे मुरझा गये, किस लिये बुझ गयी चाँदनी
ये बता दे मुझे ज़िन्दगी…

कल जो बाहों में थी और निगाहों में थी
अब वो गर्मी कहाँ खो गयी
ना वो अंदाज़ है, ना वो आवाज़ है
अब वो नर्मी कहाँ खो गयी
ये बता दे मुझे ज़िन्दगी…

बेवफ़ा तुम नहीं, बेवफ़ा हम नहीं
फिर वो जज़बात क्यूँ सो गये
प्यार तुमको भी है, प्यार हमको भी है
फ़ासले फिर ये क्यों हो गये
ये बता दे मुझे ज़िन्दगी…

 

देख लो आवाज़ देकर – Dekh Lo Aawaz Dekar (Anuradha Paudwal, Prem Geet)

Movie Name /Album Name-: प्रेम गीत (1981)
Music Producer/Music By-: जगजीत सिंह
Lyrics Writer/Lyrics by- : इंदीवर
Singers/Performed By: अनुराधा पौडवाल

देख लो आवाज़ दे कर, पास अपने पाओगे
आओगे तनहा मगर तनहा नहीं तुम जाओगे
देख लो आवाज़ देकर…

दूर रहकर भी तुम्हीं पर, रहती है अपनी नज़र
बाहों में हम थाम लेंगे, जब भी ठोकर खाओगे
देख लो आवाज़ देकर…

लें ना बदले में तुम्हारे गर खुदाई भी मिले
छोड़ देंगे दो जहां को, जब भी तुम फ़रमाओगे
देख लो आवाज़ देकर…

बेवफ़ाई भी करो तो माफ़ कर देंगे तुम्हें
हम ना वादों से फिरेंगे, तुम अगर फिर जाओगे
देख लो आवाज़ देकर…

गाओ मेरे मन – Gaao Mere Mann (Yesudas, Asha Bhosle, Apne Paraye)

Movie Name /Album Name-: अपने पराए (1980)
Music Producer/Music By-: बप्पी लाहिड़ी
Lyrics Writer/Lyrics by- : योगेश
Singers/Performed By: येसुदास, आशा भोंसले

गाओ मेरे मन
चाहे सूरज चमके रे
चाहे लगा हो ग्रहण
गाओ मेरे मन…

जो भी मिले यहाँ, जितना मिले
उसी में खुश हो ले
पूरा नहीं होता किसी का
यहाँ हर सपन
गाओ मेरे मन…

मिले जो गम तो क्या हुआ
बहारों के गीत सजा ले
बुझे कोई आशा का दीया
तो फिर से जला ले
दुखों से तू हार न राही
किए जा जतन
गाओ मेरे मन…

रो कर चल चाहे, हँस के तू चल
चलना तुझे होगा
रुकेंगे ना तेरे लिए ये समय के तरंग
गाओ मेरे मन…

लैला ओ लैला – Laila O Laila (Kanchan, Amit Kumar, Qurbani)

Movie Name /Album Name-: क़ुर्बानी (1980)
Music Producer/Music By-: कल्याणजी-आनंदजी
Lyrics Writer/Lyrics by- : इंदीवर
Singers/Performed By: कंचन, अमित कुमार

लैला मैं लैला, ऐसी हूँ लैला
हर कोई चाहे मुझसे मिलना अकेला
जिसको भी देखूँ, दुनिया भुला दूँ
मजनू बना दूँ, ऐसी मैं लैला

लैला ओ लैला लैला, ऐसी तू लैला
हर कोई चाहे तुझसे मिलना अकेला

ओ मोहब्बत का जिसको तरीक़ा ना आया
उसे ज़िन्दगी का सलीक़ा न आया
राह-ए-वफ़ा में, जाँ पर जो खेला
उसके लिये है ये, हसीनों का मेला
लैला मैं लैला…

मुझे देखकर जो, न देखे किसी को
मेरे वास्ते जो मिटा दे खुदी को
उसी दीवाने की बनूँगी मैं लैला
उसे प्यार दूँगी मैं पहला-पहला
लैला मैं लैला…

तुमको खुश देख कर – Tumko Khush Dekh Kar (Md.Rafi, Kishore Kumar, Aap Ke Deewane)

Movie Name /Album Name-: आप के दीवाने (1980)
Music Producer/Music By-: राजेश रोशन
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: मोहम्मद रफ़ी, किशोर कुमार

तुमको ख़ुश देखकर, मैं बहुत ख़ुश हुआ
ये आँख भर आई, तो फिर क्या हुआ
तुमको ख़ुश देखकर…

कौन सी शाख़ पर, कौन सा गुल खिले
यारों ये तो नसीबों के हैं फ़ैसले
किसलिए फिर करे, कोई शिकवा गिला
तुमको ख़ुश देखकर…

तुमने क्या कह दिया, हमने क्या सुन लिया
उलझनें मिट गईं, आ गया चैन सा
दर्द को मिल गई, जैसे कोई दवा
तुमको ख़ुश देखकर…

सारी दुनिया से ये ज़िन्दगी है बड़ी
ज़िन्दगी से मगर दोस्ती है बड़ी
दोस्तों दोस्ती के लिए शुक्रिया
तुमको ख़ुश देखकर…

क्या देखते हो – Kya Dekhte Ho (Md.Rafi, Asha Bhosle, Qurbani)

Movie Name /Album Name-: क़ुर्बानी (1980)
Music Producer/Music By-: कल्याणजी-आनंदजी
Lyrics Writer/Lyrics by- : इंदीवर
Singers/Performed By: मोहम्मद रफी, आशा भोंसले

क्या देखते हो, सूरत तुम्हारी
क्या चाहते हो, चाहत तुम्हारी
ना हम जो कह दें, कह ना सकोगी
लगती नहीं ठीक नीयत तुम्हारी
क्या देखते हो…

रोज़ रोज़ देखूँ तुझे, नई-नई लगे मुझे
(तेरे) अंगों में अमृत की धारा
दिल लेने के ढंग तेरे, सीखे कोई रंग तेरे
(तेरी) बातों का अन्दाज़ प्यारा
शरारत से चेहरा चमकने लगा क्यों
ये रंग लाई है संगत तुम्हारी
क्या देखते हो…

सोचो ज़रा जान-ए-जिगर, बीतेगी क्या तुम पे अगर
(तुमसे) हमको जो कोई चुरा ले
किसी ने जो तुम्हें छीना, नामुमकिन है उसका जीना
(तुम पे) कैसे नज़र कोई डाले
प्यार पे अपने इतना भरोसा
जितना मोहब्बत में फितरत हमारी
क्या देखते हो…

धीरे धीरे सुबह हुई – Dheere Dheere Subah Hui (Yesudas, Vani Jairam, Haisiyat)

Movie Name /Album Name-: हैसियत (1984)
Music Producer/Music By-: बप्पी लाहिड़ी
Lyrics Writer/Lyrics by- : इंदीवर
Singers/Performed By: येसुदास, वाणी जयराम

धीरे-धीरे सुबह हुई जाग उठी ज़िन्दगी
पंछी चले अम्बर को, अम्बर को, अम्बर को
माझी चले सागर को, सागर को, सागर को
प्यार का नाम जीवन है
मंज़िल है प्रीतम की गली
धीरे-धीरे सुबह हुई…

डूब के सूरज फिर निकला
सारे जहां को नूर मिला
दिल के द्वारे तुमको पुकारे
एक नई ज़िन्दगी
प्यार का नाम जीवन…

किरणों से दामन भर लो
प्रीत से तुम तन-मन भर लो
जिसमें जितनी प्यास जगी
उतनी ही प्रीत मिली
प्यार का नाम जीवन…

हम तुम्हें चाहते हैं – Hum Tumhein Chahte Hain (Manhar Udhas, Kanchan, Anand Kumar, Qurbani)

Movie Name /Album Name-: कुर्बानी (1980)
Music Producer/Music By-: कल्याणजी-आनंदजी
Lyrics Writer/Lyrics by- : इंदीवर
Singers/Performed By: कंचन, मनहर उदास, आनंद कुमार

नसीब इंसान का चाहत से ही सँवरता है
क्या बुरा इसमें किसी पर जो कोई मरता है

हम तुम्हें चाहते हैं ऐसे
मरने वाला कोई
ज़िन्दगी चाहता हो जैसे
हम तुम्हें चाहते हैं…

रूठ जाओ अगर तुम तो क्या हो
पल में ऐसे लगे
जिस्म से जान जैसे जुदा हो
हम तुम्हें चाहते हैं…

ज़रा पूछो तो मेरा इरादा
मुझे किससे है प्यार
मेरे दिल का है कौन शहज़ादा
ज़रा पूछो तो मेरा…

मेरे ख्वाबों में जो सज रहा है
वो ख़ुदा तो नहीं
पर ज़माने में सबसे जुदा है
मेरे ख्वाबों में…

ज़िंदगी बिन तुम्हारे अधूरी
तुमको पा लूँ अगर
हर कमी मेरी हो जाये पूरी
ज़िंदगी बिन तुम्हारे…

ले चलेंगे तुम्हें हम वहाँ पर
तन्हाई सनम
शहनाई बन जाये जहाँ पर
हम तुम्हें चाहते हैं…

कैसे दिन जीवन में – Kaise Din Jeevan Mein (Kishore Kumar, Apne Paraye)

Movie Name /Album Name-: अपने पराए (1980)
Music Producer/Music By-: बप्पी लाहिड़ी
Lyrics Writer/Lyrics by- : योगेश
Singers/Performed By: किशोर कुमार

कैसे दिन जीवन में आये, हुये वो अपने पराये
द्वार देहरी वो घर आँगन, बन गया परदेस
कैसे दिन जीवन में…

सभी अपने खोये सुख में
सभी अपने खोये दुःख में
कौन देखे मेरे मन पे लगी है क्या ठेस
बन गया परदेस, छूटा अपना देस
द्वार देहरी वो घर…

मेरे अवगुन सभी देखें
मेरे दुर्गुन सभी देखें
कोई न पूछे उजड़ा कैसे मेरे मन का देस
बन गया परदेस…

सारे बंधन सारे नाते
यूँ ना पल में बिखर जाते
लोग बदले जैसे बदले यहाँ मौसम भेस
बन गया परदेस…

ये साये हैं – Ye Saaye Hain (Asha Bhosle, Sitara)

Movie Name /Album Name-: सितारा (1980)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : गुलज़ार
Singers/Performed By: आशा भोंसले

ये साये हैं, ये दुनिया है
परछाइयों की
ये साये हैं, ये दुनिया है
भरी भीड़ में खाली
तनहाइयों की
ये साये हैं…

यहाँ कोई साहिल सहारा नहीं है
कहीं डूबने को किनारा नहीं है
यहाँ कोई साहिल सहारा नहीं है
यहाँ सारी रौनक ये रुसवाइयों की
ये साये हैं…

कई चाँद उठकर जलाए बुझाए
बहुत हमने चाहा ज़रा नींद आए
कई चाँद उठकर जलाए बुझाए
यहाँ रात होती है बेदारियों की
ये साये हैं…

यहाँ सारे चेहरे है माँगे हुए से
निगाहों में आँसू भी टाँगे हुए से
यहाँ सारे चेहरे है माँगे हुए से
बड़ी नीची राहें है ऊँचाइयों की
ये साये हैं…

हँस तू हरदम – Hans Tu Hardam (Lata, Kishore, Shivangi, Varsha, Lootmaar)

Movie Name /Album Name-: लूटमार (1980)
Music Producer/Music By-: राजेश रोशन
Lyrics Writer/Lyrics by- : अमित खन्ना
Singers/Performed By: लता मंगेशकर, किशोर कुमार, शिवांगी कोल्हापुरी, वर्षा भोसले

हे हँस तू हरदम
खुशियाँ या ग़म
किसी से डरना नहीं
डर डर के जीना नहीं
हँस तू हरदम…

किशोर, शिवांगी
जो कमजोर हैं खुद वो ही, हाथ उठाया करते हैं
जो डरपोक हैं खुद वो ही, आँख दिखाया करते हैं
दादागिरी से कभी घबराया ना करो
अरे हँस तू हरदम…

तेरी हिम्मत ही किस्मत, जो बिगड़ी बात बनायेगी
शान से तू ये कदम उठा, मंज़िल खुद मिल जायेगी
मारामारी में खुद को उलझाया ना करो
अरे हँस तू हरदम…

लूटमार से क्या मिलता, खून खराबा होता है
जैसी करनी वैसी भरनी, यही फ़ैसला होता है
दुश्मन की ललकार से तुम डर जाया ना करो
अरे हँस तू हरदम…

लता
डर से कैसा डरना है, हँसकर उसे मार भगाएँगे
भगवान ने जिन्हें जलाया है, वो दीप नहीं बुझ पाएँगे
हिम्मत वालों से कभी टकराया ना करो
हँस तू हरदम…

जिसको खुदा का खौफ नहीं, इंसान नहीं शैतान है वो
जन्नत उसी को मिलती है, इन्साफ के लिए कुर्बान हो जो
मासूमों को तुम कभी उकसाया न करो
हँस तू हरदम…

थोड़ा रेशम लगता है – Thoda Resham Lagta Hai (Lata Mangeshkar, Jyoti)

Movie Name /Album Name-: ज्योति (1981)
Music Producer/Music By-: बप्पी लाहिड़ी
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: लता मंगेशकर

हमारी इस नज़ाकत को, क़यामत से ना कम समझो
हमें ऐ चाहने वालों, न मिट्टी का सनम समझो

थोड़ा रेशम लगता है, थोड़ा शीशा लगता है
हीरे मोती जड़ते हैं, थोड़ा सोना लगता है
ऐसा गोरा बदन तब बनता है
थोड़ा रेशम लगता है…

दिल को प्यार का रोग लगा के, ज़ख़्म बनाने पड़ते हैं
ख़ून-ए-जिगर से अरमानों के, फूल खिलाने पड़ते हैं
दर्द हज़ारों उठते हैं, कितने काँटे चुभते हैं
कलियों का चमन तब बनता है
थोड़ा रेशम लगता है…

हँस के दो बातें क्या कर ली, तुम तो बन बैठे सैयाँ
पहले इनका मोल तो पूछो, फिर पकड़ो हमरी बैयाँ
दिल दौलत दुनिया तीनों, प्यार में कोई हारे तो
वो मेरा सजन तब बनता है
थोड़ा रेशम लगता है…

रिश्ते बस रिश्ते – Rishte Bas Rishte (Kishore Kumar, Gehrayee)

Movie Name /Album Name-: गहराई (1980)
Music Producer/Music By-: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- : गुलज़ार
Singers/Performed By: किशोर कुमार

रिश्ते बस रिश्ते होते हैं
कुछ इक पल के, कुछ दो पल के
रिश्ते बस रिश्ते…

कुछ परों से हल्के होते हैं
बरसों के तले चलते-चलते
भारी भरकम हो जाते हैं
कुछ भारी भरकम बर्फ़ से
बरसों के तले गलते-गलते
हलके फुल्के हो जाते हैं
रिश्ते बस रिश्ते…

नाम होते हैं रिश्तों के
कुछ रिश्ते नाम के होते हैं
रिश्ता वो अगर मर जाए भी
बस नाम से जीना होता है
रिश्ते बस रिश्ते…

जीना क्या अजी – Jeena Kya Aji (Kishore Kumar, Asha Bhosle, Dhan Daulat)

Movie Name /Album Name-: धन दौलत (1980)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : मजरूह सुल्तानपुरी
Singers/Performed By: आशा भोंसले, किशोर कुमार

जीना क्या अजी प्यार बिना
जीवन के यही चार दिना
धन-दौलत बिना चले मगर
ज़िन्दगी ना चले यार बिना
मिली दुनिया तो मज़ा, है कि मिले दिल भी
बिन्दिया भी चमके, जो बजे पायल भी
जीना क्या अजी…

सपने पूरे हुए आज, दिन फिरते नहीं देरी
सुन ओ मेरे हसीं, आज इक तू ही नहीं
सारी दुनिया है मेरी
मिली दुनिया तो…

सोने चाँदी का वो दिल क्या
जो ना दिल के काम आए
यहाँ तो तेरी क़सम, प्यार वालों में सनम
अपना पहला नाम आए
सोने चांदी का वो…

जहाँ पे सवेरा – Jahan Pe Savera (Lata Mangeshkar, Baseraa)

Movie Name /Album Name-: बसेरा (1981)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : गुलज़ार
Singers/Performed By: लता मंगेशकर

कभी पास बैठो, किसी फूल के पास
सुनो जब महकता है, बहुत कुछ ये कहता है
ओ कभी गुनगुना के, कभी मुस्कुरा के
कभी चुपके-चुपके, कभी खिलखिला के
जहाँ पे सवेरा हो बसेरा वहीं है
जहाँ पे सवेरा हो बसेरा वहीं है…

ओ कभी छोटे छोटे शबनम के कतरे
देखे तो होंगे सुबह सवेरे
ये नन्हीं सी आँखे, जागी हैं शब भर
बहुत कुछ है दिल में, बस इतना है लब पर
जहाँ पे सवेरा हो…

ना मिट्टी ना गारा, ना सोना सजाना
जहाँ प्यार देखो वहीं घर बनाना
ये दिल की इमारत बनती है दिल से
दिलासों को छू के, उम्मीदों से मिल के
जहाँ पे सवेरा हो
जहाँ पे बसेरा हो, सवेरा वहीं है

राम करे अल्लाह करे – Ram Kare Allah Kare (Md.Rafi, Lata Mangeshkar, Amit Kumar, Aap Ke Deewane)

Movie Name /Album Name-: आप के दीवाने (1980)
Music Producer/Music By-: राजेश रोशन
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: मोहम्मद रफ़ी, लता मंगेशकर, अमित कुमार

अपीनी ना ना बैन्तो

राम करे अल्लाह करे
तेरी मेरी दोस्ती बनी रहे
राम करे अल्लाह करे…
आगे-आगे तुम दोनों, पीछे-पीछे हम
हमको नहीं कोई दुनिया का ग़म
अरे रुत आए रुत जाए
कोई हँसे कोई गाए
महफ़िल सजी रहे
अपीनी ना ना बैन्तो…

अपनी ख़ुशियाँ तुझको दे दूँ
तेरे आँसू ले लूँ
अरे मर जाऊँ मैं तेरी ख़ातिर
अपनी जाँ पे खेलूँ
तेरे बिना कौन मेरा, सुन मेरे यार
मेरा सब कुछ बस, तू तेरा प्यार
हो ग़म नहीं, हम ना हों
चर्चे ये कम ना हों, रौनक लगी रहे
अपीनी ना ना बैन्तो…

हम सब साथी एक दूजे के
नाम को याद रखेंगे
इस मस्तानी इस दीवानी
शाम को याद रखेंगे
कभी कहीं ऐसा मज़ा आया ही नहीं
कभी कहीं ऐसा समां छाया ही नहीं
ये हसीं यादों की प्यार भरे वादों की
दुनिया सजी रहे
हे राम करे…

तुझपे क़ुरबाँ मेरी जान – Tujhpe Qurban Meri Jaan (Kishore Kumar, Anwar Hussain, Qurbani)

Movie Name /Album Name-: कुर्बानी (1980)
Music Producer/Music By-: कल्याणजी-आनंदजी
Lyrics Writer/Lyrics by- : फारुख कैसर
Singers/Performed By: किशोर कुमार, अनवर हुसैन

फरिश्तों को नहीं मिलता, ये वो जज़्बा है इंसानी
नसीबा साथ के जिनका, वो ही देते हैं कुर्बानी

हो तुझपे क़ुरबाँ मेरी जान
मेरा दिल मेरा ईमान
यारी मेरी कहती है
यार पे कर दे सब क़ुर्बान
होय क़ुर्बानी क़ुर्बानी क़ुर्बानी
अल्लाह को प्यारी है क़ुर्बानी
क़ुर्बानी क़ुर्बानी…

साए में तलवारों के, दावे हैं दिलदारों के
दुश्मनों के जानी दुश्मन, यार सच्चे यारों के
हम यार सच्चे यारों के
हो आँधी आए या तूफ़ान
यार खड़े हैं सीना तान
यारी मेरी कहती है…

यार ऐसा मिल गया, दिल हमारा खिल गया
हाथ में जब हाथ आया, ये ज़माना हिल गया
हो दो हाथों की देखो शान
ये अल्लाह है, ये भगवान
यारी मेरी कहती है…

जहाँ बिन हवा के – Jahan Bin Hawa Ke (Asha Bhosle, Jhutha Sach)

Movie Name /Album Name-: झूठा सच (1984)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : मजरूह सुल्तानपुरी
Singers/Performed By: आशा भोंसले

जहाँ बिन हवा के पर्दा हिले
आजा मैं वहीं हूँ, लग जा गले
आ जा मचलता है दिल
हाय कैसा जलता है दिल
जहाँ बिन हवा के…

रात जाने से पहले ऐ सनम आइये
इन लबों के निशाँ छोड़ते जाइये
हम से नहीं अब सँभलता है दिल
हाय कैसा जलता है…

ऐसे खो जायें मिल के, आज ऐ जानेमन
होश में ना रहें, दो सुलगते बदन
शम्में बुझा दो मचलता है दिल
हाय कैसा जलता है…

जनम जनम का – Janam Janam Ka (Asha Bhosle, Amar Jyoti)

Movie Name /Album Name-: अमर ज्योति (1984)
Music Producer/Music By-: जयदेव
Lyrics Writer/Lyrics by- : नक्श ल्यालपुरी
Singers/Performed By: आशा भोंसले

जनम जनम का है ये नाता, तेरा मेरा साजना
साथ कभी न छूटे, प्यार कभी न टूटे बालमा
जनम जनम का है…

बन के शर्मीली दुल्हनें, सज-धज के बहारें आएँगी
मीठी-मीठी सी ख़ुशबू से, मन की बगिया महकाएँगी
बस गीत यही दोहराएँगी, अमर रहेगा प्यार अपना
जनम जनम का है…

मैं सरिता तू सागर है, मैं बदरी तू सावन है
मैं छबि हूँ सुंदर सपनों की, तू आशाओं का दर्पण है
तू माझी मैं नैया तेरी, ये प्यार बना पतवार अपना
जनम जनम का है…

है प्रीत मधुर सी रागिनी, जीवन बीना के तार की
जो देखी तेरे नैनों में, है अमर वो ज्योति प्यार की
इस पार कभी उस पार कभी, हुआ मिलन सौ बार अपना
जनम जनम का है…

झलक दिखा के कर गई – Jhalak Dikha Ke Kar Gayi (Shailendra Singh, Manzil Manzil)

Movie Name /Album Name-: मंज़िल मंज़िल (1984)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : मजरूह सुल्तानपुरी
Singers/Performed By: शैलेंद्र सिंह

झलक दिखा के कर गई दीवाना
मगर थी कौन, यही नहीं जाना
झलक दिखा के…

शोला था बिजली थी
या कोई टूटा तारा थी वो
जो भी थी मेरे ही
प्यार का नज़ारा थी वो
यहीं थी वो तस्वीरें जाना ना
मगर थी कौन, यही नहीं जाना
झलक दिखा के…

कुछ भी हो मेरे दिल
फिर भी उसको पाना तो है
गुलशन से सेहरा से
ढूँढकर उसे लाना तो है
वो ही नहीं तो दुनिया वीराना
मगर थी कौन, यही नहीं जाना
झलक दिखा के…

मुझे नौलखा मँगा दे – Mujhe Naulakha Manga De (Kishore Kumar, Asha Bhosle, Sharaabi)

Movie Name /Album Name-: शराबी (1984)
Music Producer/Music By-: बप्पी लाहिड़ी
Lyrics Writer/Lyrics by- : अंजान
Singers/Performed By: किशोर कुमार, आशा भोंसले

अंग अंग तेरा रंग रचा के, ऐसा करूँ सिंगार
जब-जब झांझर झनकाऊ मैं, खनके मन के तार
मुझे नौलखा मंगा दे रे, ओ सैंया दीवाने
मुझे नौलखा मंगा दे रे, ओ सैंया दीवाने
माथे पे झूमर, कानों में झुमका
पाँव में पायलिया, हाथों में हो कंगना
मुझे नौलखा मंगा…

तुझे मैं तुझे मैं
तुझे गले से लगा लूँगी, ओ सैयां दीवाने
मुझे अंगिया सिला दे रे, ओ सैयां दीवाने
तुझे मैं तुझे मैं
तुझे सीने से लगा लूँगी, ओ सैंया दीवाने
मुझे नौलखा मंगा…

सलमा सितारों की झिलमिल चुनरिया
आऊँ पहनके तो फिसले नजरिया
मुझको सजा दे बलमा
सजा दे मुझको सजा दे बलमा
कोरी कुँवारी ये कमसिन उमरिया
तेरे लिए नाचे सज के सांवरिया
लाली मंगा दे सजना
सूरज से लाली मंगा दे सजना
तुझे मैं, तुझे मैं
तुझे होठों से लगा लूँगी, ओ सैंया दीवाने
मुझे नौलखा मंगा…

मैं तो सारी उमरिया लुटाये बैठी
बलमा दो अँखियों की शरारत में
मैं तो जन्मों का सपना सजाये बैठी
सजना खो के तेरी मोहब्बत में

माना रे माना ये अब मैंने माना
होता है क्या सैयां दिल का लगाना
रोके ये दुनिया, या रूठे ज़माना
जाना है मुझको सजन घर जाना
हो, जैसे गजरा हँसे जैसे गजरा हँसे
जैसे गजरा हँसे जैसे गजरा हँसे
वैसे अँखियों में तुम मुस्कुराना
हो किरणों से ये मांग मेरी सजा दे
पूनम के चंदा की बिंदिया मंगा दे
तुझे मैं, तुझे मैं
तुझे माथे पे सजा लूँगी, ओ सैयां दीवाने

माथे पे झूमर, कानों में झुमका
पाँव में पायलिया, हाथो में हो कँगना
मुझे नौलखा मँगा दे रे, ओ सैयां दीवाने
तेरे क़दमों पे छलका दूँगी, मैं सारे मैख़ाने

लोग कहते हैं मैं शराबी हूँ
तुमने भी शायद ये ही सोच लिया हाँ
लोग कहते हैं…

किसी पे हुस्न का गुरुर, जवानी का नशा
किसी के दिल पे मोहब्बत की रवानी का नशा
किसी को देख के साँसों से उभरता है नशा
बिना पीये भी कहीं हद से गुज़रता है नशा
नशे में कौन नहीं है मुझे बताओ ज़रा
किसे है होश मेरे सामने तो लाओ ज़रा
नशा है सब पे मगर रंग नशे का है जुदा
खिली खिली हुई सुबह पे, है शबनम का नशा
हवा पे खुशबू का बादल पे, है रिमझिम का नशा
कही सुरूर है खुशियों का, कहीं ग़म का नशा

नशा शराब में होता तो नाचती बोतल
मैकदे झूमते पैमानों में होती हलचल
नशे में कौन नहीं है, मुझे बताओ ज़रा
लोग कहते हैं…

थोड़ी आँखों से पिला दे रे, सजनी दीवानी
तुझे मैं तुझे मैं
तुझे साँसों में बसा लूँगा, सजनी दीवानी
तुझे नौलखा मंगा दूँगा, सजनी दीवानी

तू चांद नगर की – Tu Chand Nagar Ki (Kishore Kumar, Duniya)

Movie Name /Album Name-: दुनिया (1984)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : जावेद अख्तर
Singers/Performed By: किशोर कुमार

तू चाँद नगर की शहज़ादी
मैं इस धरती का बंजारा
तू महलों में रहने वाली
मैं गलियों-गलियों आवारा
तू चाँद नगर की…

मैं इक हवा का झोंका, तू फूल है
इतना तुझको चाहूँ, फज़ूल है
मैं आज यहाँ और कल हूँ वहाँ
तुझे अपना गुलशन ही प्यारा
तू महलों में रहने वाली…

तेरा मेरा दो पल का साथ है
सच है ये सब किस्मत की बात है
हर दिल में यहाँ तू है मेहमाँ
मैं बेघर बेदर बेचारा
तू महलों में रहने वाली…

लब ना हिले तो आँखों से काम ले
जाने वाली मेरा सलाम ले
मेरे पिछले जनम के भले थे करम
तो मिल जाऊँगा दोबारा
तू महलों में रहने वाली…

अभिमन्यु चक्रव्यूह में – Abhimanyu Chakravyuh Mein (Kishore Kumar, Inquilaab)

Movie Name /Album Name-: इंकलाब (1984)
Music Producer/Music By-: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: किशोर कुमार

अभिमन्यु चक्रव्यूह में फँस गया है तू
सम्भल सके तो सम्भल, निकल सके तो निकल
दुश्मनों के जाल से, दोस्तों की चाल से
सम्भल सके तो…

ये खुदगर्ज़ दरिन्दे हैं
इनको कुछ एहसास नहीं
अश्क़ों से बुझने वाली
इनके दिल की प्यास नहीं
ये पियेंगे तेरा लहू
अभिमन्यू चक्रव्यूह में…

भूल भुलैयों के जैसी
तेरे गिर्द लकीरें हैं
होंठों पर हैं पहरे तो
पैरों में ज़ंजीरें हैं
मुश्किलें खड़ी हैं चार सू
अभिमन्यु चक्रव्यूह में…

ओ भोले-भाले पंछी
क़ैद से कैसे छूटेगा
सर टकरा ले कुछ कर ले
ये पिंजरा न टूटेगा
उड़ने की तू ना कर आरज़ू
अभिमन्यू चक्रव्यूह में…

लो मैं बन गया थानेदार – Lo Main Ban Gaya Thanedar (Kishore Kumar, Inquilaab)

Movie Name /Album Name-: इंकलाब (1984)
Music Producer/Music By-: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: किशोर कुमार

ऐ लो मैं बन गया थानेदार भईया
अब डर काहे का
रिश्वत ख़ोरी अब न चलेगी
चोरों की चोरी अब न चलेगी
अरे जोरा जोरी अब न चलेगी
अब अपनी है सरकार भईया
अब डर काहे…

अब न किसी से तुम घबराओ
थाने में आओ रपट लिखाओ
किसी की इज़्ज़त अब न लुटेगी
किसी की मेहनत अब न लुटेगी
किसी की दौलत अब न लुटेगी
मैं सबका पहरेदार भईया
अब डर काहे…

तुम मेरे हो मैं तुम सबका
ये रिश्ता है जाने कब का
इन गलियन के हम साथी हैं
इस जीवन के हम साथी हैं
साथी हैं, हम साथी हैं, हम साथी हैं
ना टूटे कभी ये प्यार भईया
अब डर काहे…

बंद यूँ अपनी मुट्ठी कर दी
मैंने सबकी छुट्टी कर दी
दारू का अड्डा अब ना चलेगा
सट्टे पे सत्ता अब ना चलेगा
अरे शहर में सट्टा अब न चलेगा
लम्बू की लम्बी मार ओ भईया
अब डर काहे का…

बनके नज़र दिल की – Banke Nazar Dil Ki (Kishore Kumar, Aasmaan)

Movie Name /Album Name-: आसमान (1984)
Music Producer/Music By-: अनु मलिक
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: किशोर कुमार

बन के नज़र दिल की ज़ुबाँ
कहने लगी इक दास्ताँ
बन के नज़र…

जाने कैसा है ये अफ़साना
जाने कैसा आया ये ज़माना
अरे तू भी अनजान है
मैं भी तो अनजान हूँ
तू भी कुछ हैरान है
मैं भी कुछ हैरान हूँ
ना जाने क्या बातें हुयीं
तेरे मेरे दरमियाँ
बन के नज़र…

ऐसा लगता है ये सितारे
जैसे करते हैं कुछ इशारे
अरे ना आँखों में नींद है
न दिल में क़रार है
क्या हो जाए क्या पता
कोई ऐतबार है
इक ये उमर दूजे ये रात
उसपे सितम ये समाँ
बन के नज़र…

जब भी तेरी याद आ गयी
दिल को मेरे तड़पा गयी
ग़म की घटा बरसा गयी
आँसू मेरे छलका गयी
आवाज़ दी मैंने तुझे
आवाज़ दे तू है कहाँ
बन के नज़र…

एक सुबह एक मोड़ पर – Ek Subah Ek Mod Par (Yesudas, Hip Hip Hurray)

Movie Name /Album Name-: हिप हिप हुर्रे (1984)
Music Producer/Music By-: वनराज भाटिया
Lyrics Writer/Lyrics by- : गुलज़ार
Singers/Performed By: येसुदास

एक सुबह एक मोड़ पर
मैंने कहा उसे रोक कर
हाथ बढ़ा ऐ ज़िन्दगी
आँख मिला के बात कर

रोज़ तेरे जीने के लिये
एक सुबह मुझे मिल जाती है
मुरझाती है कोई शाम अगर
तो रात कोई खिल जाती है
मैं रोज़ सुबह तक आता हूँ
और रोज़ शुरू करता हूँ सफ़र
हाथ बढ़ा ऐ ज़िंदगी…

तेरे हज़ारों चेहरों में
एक चेहरा है मुझसे मिलता है
आँखों का रंग भी एक सा है
आवाज़ का अंग भी मिलता है
सच पूछो तो हम दो जुड़वा हैं
तू शाम मेरी मैं तेरी सहर
हाथ बढ़ा ऐ ज़िन्दगी…

तुमसे मिलके ज़िन्दगी को – Tumse Milke Zindagi Ko (Lata Mangeshkar, Chor Police)

Movie Name /Album Name-: चोर पुलिस (1983)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : निदा फाज़ली
Singers/Performed By: लता मंगेशकर

तुमसे मिलके ज़िन्दगी को यूँ लगा
जैसे हमको सारी दुनिया मिल गयी
दिल में जागी धड़कनों की रागिनी
हर तमन्ना फूल बनके खिल गयी
तुमसे मिलके ज़िंदगी…

होंठों से वादे लिखें, आँखों से आँखें पढ़ें
टूटे ना ये चाहतों का सिलसिला
तुमसे मिलके ज़िन्दगी…

बागों में मौसम खुले, ख़्वाबों के चेहरे धुले
तुमसे पहले हर खुशी थी बेवजह
तुमसे मिलके ज़िंदगी…

हो गए दीवाने – Ho Gaye Deewane (Kishore Kumar, Laila)

Movie Name /Album Name-: लैला (1984)
Music Producer/Music By-: ऊषा खन्ना
Lyrics Writer/Lyrics by- : सावन कुमार टक
Singers/Performed By: किशोर कुमार

हो गए दीवाने तुमको, देख कर इस हाल में
चौदहवीं का चाँद हो तुम, चौदहवें ही साल में
हो गए हे हे, हो गए आ हा, हो गए दीवाने

ये मचलती कमसिनी और उसपे चढ़ता ये शबाब
एक नकली तिल लगा लो, गाल पर अपने जनाब
बदनज़र से बच के पहुँचोगे पंदरहवें साल में
हो गए दीवाने…

आ गई तुमको हया मेरी ज़रा सी बात पर
लीजिए रख लीजिए दिल मेरा अपने हाथ पर
हम बना लेंगे तुम्हें दुल्हन सोलहवें साल में
हो गए दीवाने…

जाने क्या बात है – Jaane Kya Baat Hai (Lata Mangeshkar, Sunny)

Movie Name /Album Name-: सनी (1984)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: लता मंगेशकर

जाने क्या बात है, जाने क्या बात है
नींद नहीं आती बड़ी लम्बी रात है
जाने क्या बात…

सारी सारी रात मुझे इसने जगाया
जैसे कोई सपना, जैसे कोई साया
कोई नहीं लगता है, कोई मेरे साथ है
जाने क्या बात…

धक-धक कभी से जिया डोल रहा है
घूँघट अभी से मेरा खोल रहा है
दूर अभी तो पिया की मुलाक़ात है
जाने क्या बात…

जब-जब देखूँ मैं ये चाँद सितारे
ऐसा लगता है मुझे लाज के मारे
जैसे कोई डोली, जैसे बारात है
जाने क्या बात…

हर घड़ी ढल रही – Har Ghadi Dhal Rahi (Amit Kumar, Saaransh)

Movie Name /Album Name-: सारांश (1984)
Music Producer/Music By-: अजीत वर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : वसन्त देव
Singers/Performed By: अमित कुमार

हर घड़ी ढल रही, शाम है ज़िंदगी
दर्द का दूसरा, नाम है ज़िंदगी
हर घड़ी ढल रही…

आसमाँ है वही, और वही है ज़मीं
है मकाम गैर का, गैर है या हमीं
अजनबी आँख सी आज है ज़िन्दगी
दर्द का दूसरा…

क्यों खड़े राह में, राह भी सो गई
अपनी तो छाँव भी अपने से खो गई
भटके हुए पंछी की रात है ज़िन्दगी
दर्द का दूसरा…

जब कभी मुड़ के – Jab Kabhi Mud Ke (Bhupinder Singh, Asha Bhosle, Hip Hip Hurray)

Movie Name /Album Name-: हिप हिप हुर्रे (1984)
Music Producer/Music By-: वनराज भाटिया
Lyrics Writer/Lyrics by- : गुलज़ार
Singers/Performed By: भूपिंदर सिंह, आशा भोंसले

जब कभी मुड़ के देखता हूँ मैं
तुम भी कुछ अजनबी सी लगती हो
मै भी कुछ अजनबी सा लगता हूँ
जब कभी मुड़ के…

साथ ही साथ चलते चलते कहीं
हाथ छूटे मगर पता ही नहीं
आँसुओं से भरी सी आँखों में
डूबी डूबी हुई सी लगती हो
तुम बहुत अजनबी सी लगती हो
जब कभी मुड़ के…

हम जहाँ थे, वहाँ पे अब तो नहीं
पास रहने का भी सबब तो नहीं
कोइ नाराज़गी नहीं है मगर
फिर भी रूठी हुई सी लगती हो
तुम भी अब अजनबी सी लगती हो
जब कभी मुड़ के…

रात उदास नज़्म लगती है
ज़िन्दगी से रस्म लगती है
एक बीते हुए से रिश्ते की
एक बीती घड़ी से लगते हो
तुम भी अब अजनबी से लगते हो
जब कभी मुड़ के…

कभी कुछ पल – Kabhi Kuch Pal (Anuradha Paudwal, Aarti Mukherji, Rang Birangi)

Movie Name /Album Name-: रंग बिरंगी (1983)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : योगेश
Singers/Performed By: अनुराधा पौडवाल, आरती मुखर्जी

कभी कुछ पल जीवन के
लगता है के चलते-चलते
कुछ देर ठहर जाते हैं
कभी कुछ पल…

हर दिन की हलचल से आज मिली ख़ामोशी
छलकी है तन-मन में प्यार भरी मदहोशी
बदले-बदले मौसम के मुझे रंग नज़र आते हैं
कभी कुछ पल…

ये घड़ियाँ फ़ुरसत की रोज़ कहाँ मिलती हैं
अब ख़ुशियाँ हाथ मेरा थामे हुए चलती हैं
मेरे साथ गगन ये धरती, मेरा गीत मधुर गाते हैं
कभी कुछ पल…

कितना भला लगता है, सूरज का ये ढलना
दुनिया से दूर छुप के यहाँ, तेरा-मेरा यूँ मिलना
कभी-कभी दीवानेपन की, हम हद से गुज़र जाते हैं
कभी कुछ पल…

प्यार करने वाले – Pyar Karne Waale (Lata Mangeshkar, Manhar Udhas, Hero)

Movie Name /Album Name-: हीरो (1983)
Music Producer/Music By-: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: लता मंगेशकर, मनहर उदास

लोगों से सुना है किताबों में लिखा है
सबने यही कहा है, सबने यही कहा है
प्यार करने वाले कभी डरते नहीं, डरते नहीं
जो डरते हैं वो, प्यार करते नहीं
प्यार करने वाले…

लम्बी दीवारें चुनवा दो, लाख बिठा दो पहरे
रस्ते में बिछा दो, ऊँचे पर्वत सागर गहरे
तूफ़ाँ कब रुकते हैं, बादल जब झुकते हैं
सारे कह उठते हैं, सारे कह उठते हैं
प्यार करने वाले…

प्यार छुपे न खुशबू, ये एलान कहो तो कर दूँ
चुटकी भर सिन्दूर मँगा दे, माँग मैं तेरी भर दूँ
दुनिया क्या कर लेगी, दुनिया से कहेगी
बस कहती ही रहेगी, बस कहती ही रहेगी
प्यार करने वाले…

लहरों की तरह – Lahron Ki Tarah (Kishore Kumar, Nishaan)

Movie Name /Album Name-: निशान (1983)
Music Producer/Music By-: राजेश रोशन
Lyrics Writer/Lyrics by- : गुलशन बावरा
Singers/Performed By: किशोर कुमार

लहरों की तरह यादें, दिल से टकराती हैं
तूफान उठाती हैं, लहरों की तरह यादें
दिल से टकराती हैं तूफान उठाती हैं
लहरों की तरह…

किस्मत में है घोर अंधेरे
रातें सुलगती, धुंधले सवेरे
लहरों की तरह…

तकते-तकते सूनी राहें
पथरा गयी हैं, अब तो निगाहें
लहरों की तरह…

बरसों से दिल पे बोझ उठाये
ढूँढ रहा हूँ, प्यार के साये
लहरों की तरह…

तेरा हिज्र मेरा – Tera Hijr Mera (Kabban Mirza, Razia Sultan)

Movie Name /Album Name-: रज़िया सुल्तान (1983)
Music Producer/Music By-: खय्याम
Lyrics Writer/Lyrics by- : निदा फ़ाज़ली
Singers/Performed By: कब्बन मिर्ज़ा

तेरा हिज्र मेरा नसीब है
तेरा ग़म ही मेरी हयात है
मुझे तेरी दूरी का ग़म हो क्यों
तू कहीं भी हो मेरे साथ है
तेरा हिज्र मेरा…

मेरे वास्ते तेरे नाम पर
कोई हर्फ़ आए नहीं नहीं
मुझे ख़ौफ़-ए-दुनिया नहीं
मगर मेरे रूबरू तेरी ज़ात है
तेरा हिज्र मेरा…

तेरा वस्ल ऐ मेरी दिलरुबा
नहीं मेरी किस्मत तो क्या हुआ
मेरी महजबीं यही कम है क्या
तेरी हसरतों का तो साथ है
तेरा हिज्र मेरा…

तेरा इश्क़ मुझपे है मेहरबाँ
मेरे दिल को हासिल है दो जहां
मेरी जान-ए-जाँ इसी बात पर
मेरी जान जाए तो बात है
तेरा हिज्र मेरा…

तेरी तस्वीर मिल गई – Teri Tasveer Mil Gayi (Shabbir Kumar, Betaab)

Movie Name /Album Name-: बेताब (1983)
Music Producer/Music By-: आर.डी.बर्मन
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: शब्बीर कुमार

ये मेरी ज़िंदगी बेजान लाश थी
बरसों से प्यार को तेरी तलाश थी
बस आज मेरी खोई तक़दीर मिल गयी
तेरी तस्वीर मिल गई, तेरी तस्वीर मिल गई
मिल गई, मिल गई, तेरी तस्वीर मिल गई

अब के बहार में इस इंतज़ार में
दिल का वो हाल था, मुशकिल ये साल था
दीवाने के लिये इक ज़ंजीर मिल गयी
तेरी तस्वीर मिल गयी…

तस्वीर में मगर ये कौन है बता
इसको ज़रा उठा, मुझको यहाँ बिठा
क्या काम इसका राँझे को हीर मिल गयी
तेरी तस्वीर मिल गयी…

आई है टूट कर, तुझ पर जवानियाँ
बचपन की है मगर, सारी निशानियाँ
मेरे हसीन ख़्वाबों की ताबीर मिल गयी
तेरी तस्वीर मिल गयी…

मेरे ख्यालों की रहगुज़र – Mere Khayalon Ki Rehguzar (Anwar Hussain, Yeh Ishq Nahin Aasaan)

Movie Name /Album Name-: ये इश्क़ नहीं आसाँ (1984)
Music Producer/Music By-: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics Writer/Lyrics by- : आनंद बक्षी
Singers/Performed By: अनवर हुसैन

मेरे ख़यालों की रहगुज़र से
वो देखिए वो गुज़र रहे हैं
मेरी निगाहों के आसमाँ से
ज़मीन-ए-दिल पर उतर रहे हैं
मेरे ख्यालों की…

ये कैसे मुमकिन है हमनशीनों
के दिल को दिल की ख़बर न पहुँचे
उन्हें भी हम याद आते होंगे
के जिनको हम याद कर रहे हैं
मेरे ख्यालों की…

तुम्हारे ही दम क़दम से थी
जिनकी मौत और ज़िंदगी अबारत
बिछड़ के तुम से वो नामुराद अब
न जी रहे हैं, न मर रहे हैं
मेरे ख्यालों की…

इसी मोहब्बत की रोज़-ओ-शब हम
सुनाया करते थे दास्तानें
इसी मोहब्बत का नाम लेते
हुए भी हम आज डर रहे हैं
मेरे ख्यालों की…

चले हैं थोड़े ही दूर तक बस
वो साथ मेरे सलीम फिर भी
ये बात कैसे मैं भूल जाऊँ
कि हम कभी हमसफ़र रहे हैं
मेरे निगाहों के…

This Post Has One Comment

Leave a Reply