Indian Movie Songs, Old Bollywood Songs

post Contents ( Hindi.Shayri.Page)

Indian Movie Songs, Old Bollywood Songs

 

जूते दे दो, पैसे ले लो – Joote De Do, Paise Le Lo (Hum Aapke Hain Koun)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-रविंदर रावल
Singers/Performed By: लता मंगेशकर, एस.पी.बालासुब्रमन्यम

दुल्हे की सालियों
ओ हरे दुपट्टे वालियों
जूते दे दो, पैसे ले लो
दुल्हन के देवर
तुम दिखलाओ ना यूं तेवर
पैसे दे दो, जूते ले लो

अजी नोट गिनो जी (जूते लाओ)
जिद छोड़ो जी (जूते लाओ)
फ्रौड हैं क्या हम (तुम ही जानो)
अकडू हो तुम (जो भी मानो)
अजी बात बढ़ेगी (बढ़ जाने दो)
मांग चढ़ेगी (चढ़ जाने दो)
अड़ो ना ऐसे (पहले जूते)
जूते लिए हैं नहीं चुराया कोई जेवर
दुल्हन के देवर तुम दिखलाओ ना यूं तेवर
पैसे दे दो जूते ले लो…

कुछ ठंडा पी लो (मूड नहीं है)
दही बड़े लो (मूड नहीं है)
कुल्फी खा लो (बहुत खा चुके)
पान खा लो (बहुत खा चुके)
अजी रसमलाई (आपके लिए)
इतनी मिठाई (आपके लिए)
पहले जूते (खायेंगे क्या)
आपकी मर्जी (ना जी तौबा)
किसी बेतुके शायर की बेसुरी कवालियों
दुल्हे की सालियों ओ हरे दुपट्टे वालियों
जूते दे दो, पैसे ले लो…

 

ये मौसम का जादू है – Ye Mausam Ka Jadoo (Hum Aapke Hain Koun)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-रविंदर रावल
Singers/Performed By: लता मंगेशकर, एस.पी.बालासुब्रमन्यम

ठंडी ठंडी पुरवैया में उड़ती है चुनरिया
धड़के मोरा जिया रामा बाली है उमरिया

दिल पे, नहीं काबू
कैसा, ये जादू

ये मौसम का जादू है मितवा
ना अब दिल पे काबू है मितवा
नैना जिसमें खो गए, दीवाने से हो गए
नजारा वो हरसू है मितवा
ये मौसम का जादू…

सहरी बाबु के संग, मेम गोरी गोरी हे
ऐसे लागे जैसे, चंदा की चकोरी

फूलों कलियों की बहारें, चंचल ये हवाओं की पुकारें
हमको ये इशारों में कहे हम, थम के यहाँ घड़ियाँ गुजारें
पहले कभी तो ना हमसे, बतियाते थे ऐसे फुलवा
ये मौसम का जादू…

सच्ची सच्ची बोलना भेद ना छुपाना
कौन डगर से आये, कौन दिसा है जाना

इनको हम ले के चले हैं, अपने संग अपनी नगरिया
हाय रे संग अनजाने का, उस पर अनजान डगरिया
फिर कैसे तुम दूर इतने, संग आ गयी मेरी गोरिया
ये मौसम का जादू…

माए नी माए – Maye Ni Maye (Hum Aapke Hain Koun)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-देव कोहली
Singers/Performed By: लता मंगेशकर

माये नी माये मुंडेर पे तेरी, बोल रहा है कागा
जोगन हो गयी तेरी दुलारी, मन जोगी संग लागा

चाँद की तरह चमक रही थी उस जोगी की काया
मेरे द्वारे आकर उसने प्यार का अलख जगाया
अपने तन पे भस्म रमा के, सारी रैन वो जागा
जोगन हो गयी तेरी दुलारी…

मन्नत मांगी थी तुने, इक रोज मैं जाऊं बियाही
उस जोगी के संग मेरी तू कर दे अब कुड़माई
इन हाथों में लगा दे मेहँदी, बांध शगुन का धागा
जोगन हो गयी तेरी दुलारी…

 

आज हमारे दिल में – Aaj Hamare Dil Mein (Hum Aapke Hain Koun)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-रविंदर रावल
Singers/Performed By: लता मंगेशकर, कुमार सानू

आज हमारे दिल में अजब ये उलझन है
गाने बैठे गाना, सामने समधन है
हम कुछ आज सुनाये, ये उनका भी मन है
गाने बैठे गाना, सामने समधन है

कानों की बालियाँ, चाँद सूरज लगे
ये बनारस की, साड़ी खूब सजे
राज़ की बात बताएँ, समधीजी घायल हैं
आज भी जब समधन की, खनकती पायल है

होठों की ये हंसी, आँखों की ये हया
इतनी मासूम तो, होती है बस दुआ
राज की बात बताएँ, समधी खुश किस्मत हैं
लक्ष्मी है समधन जी, जिनसे घर जन्नत है

आज हमारे दिल में अजब ये उलझन है
सामने समधी जी, गा रही समधन है
हमको जो है निभाना, वो नाजुक बंधन है
सामने समधी जी, गा रही समधन है

मेरी छाया है जो, आपके घर चली
सपना बनके मेरी, पलकों में है पली
राज़ की बात बताएँ, ये पूंजी जीवन की
शोभा आज से है ये, आपके आँगन की

 

लो चली मैं – Lo Chali Main (Hum Aapke Hain Koun)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-रविंदर रावल
Singers/Performed By: लता मंगेशकर

लो चली मैं, अपने देवर की बारात ले के
लो चली मैं
ना बैण्ड बाजा, ना ही बराती
खुशियों की सौगात ले के
लो चली मैं

देवर दूल्हा बना, सर पे सेहरा सजा
भाभी बढ़कर आज बलैय्याँ लेती है
प्रेम की कालिया खिले, पल पल खुशियाँ मिले
सच्चे मन से आज दुआएं देती है
घोड़े पे चढ़ के, चला है बांका
अपनी दुल्हन से मिलने
लो चली मैं…

वाह वाह रामजी, जोड़ी क्या बनाई
देवर-देवरानी जी, बधाई हो बधाई
सब रस्मों से बड़ी है जग में
दिल से दिल की सगाई

आई है शुभ घड़ी, आज बनी मैं बड़ी
कल तक घर की बहू थी, अब हूँ जेठानी
हुकुम चलाऊंगी मैं, आँख दिखाऊंगी मैं
सहमी खड़ी रहेगी मेरी देवरानी
हजार सपने, पलकों में अपने
दीवानी मैं साथ ले के
लो चली मैं…

धिकताना धिकताना – Dhiktana Dhiktana (Hum Aapke Hain Koun)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-रविंदर राव
Singers/Performed By: एस.पी.बालासुब्रमन्यम

धिकताना, धिकताना, धिकताना
धिक, धिकताना, धिकताना, धिकताना
भाभी तुम खुशियों का खज़ाना
धिकताना, धिकताना…

पहली किरण जब से उगे
भाभी मेरी तब से जगे
सबका पूरा ध्यान धरे वो
शाम ढले तक काम करे
कल तक रहा, इस छाँव से
मेरा बचपन अनजाना
धिकताना, धिकताना…

होगी मेरी शादी कभी
कहते हैं यह मुझसे सभी
खुद अपनी देवरानी चुनना
बात किसी की मत सुनना
तुम ढूंढ के, रंग रूप में
अपनी परछाई लाना
धिकताना, धिकताना…

कब तक रहूँ सबसे छोटा
आये कोई मुझसे छोटा
हँसता बोलता कोई खिलौना
अब इन बाँहों को दो ना
मांगे तुमसे, घर का आँगन
प्यारा प्यारा नजराना
धिकताना, धिकताना…

 

हम आपके हैं कौन – Hum Aapke Hain Koun (Lata Mangeshkar, S.P.Balasubramanium)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-देव कोहली
Singers/Performed By: लता मंगेशकर, एस.पी.बालासुब्रमन्यम

हम आपके हैं कौन
बेचैन है मेरी नजर, है प्यार का कैसा असर
ना चुप रहो इतना कहो, हम आपके आपके हैं कौन

खुद को सनम रोका बड़ा
आखिर मुझे कहना पड़ा
ख्वाबो में तुम आते हो क्यों
हम आपके आपके हैं कौन…

बेचैन है मेरी नजर
है प्यार का कैसा असर
हैं होश गुम पूछो ना तुम
हम आपके आपके हैं कौन…

कैसे कहूँ दिल की लगी
चेहरा मेरा पढ़ लो कभी
ये शर्म की सुर्खी कहे
हम आपके आपके हैं कौन…

 

मुझसे जुदा होकर – Mujhse Juda Ho Kar (Hum Aapke Hain Koun)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-देव कोहली
Singers/Performed By: लता मंगेशकर, एस.पी.बालासुब्रमन्यम

मुझसे जुदा हो कर तुम्हें दूर जाना है
पल भर की जुदाई फिर लौट आना है
साथिया, संग रहेगा तेरा प्यार
साथिया, रंग लायेगा इंतज़ार
तुमसे जुदा होकर मुझे दूर जाना है
पल भर की जुदाई…

मैं हूँ तेरी सजनी, साजन है तू मेरा
तू बाँध के आया मेरे प्यार का सेहरा
चेहरे से अब तेरे हटती नहीं अँखियाँ
तेरा नाम ले लेकर, छेड़े मुझे सखियाँ
सखियों से अब मुझको पीछा छुड़ाना है
पल भर की जुदाई…

मेरे तसव्वुर में तुम रोज़ आती हो
चुपके से तुम आकर, मेरा घर सजाती हो
सजनी बड़ा प्यारा ये रूप है तेरा
गजरे की खुशबू से महका है घर मेरा
आँखों से अब तेरी काजल चुराना है
पल भर की जुदाई…

 

दीदी तेरा देवर दीवाना – Didi Tera Dewar Deewana (Hum Aapke Hain Koun)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-देव कोहली
Singers/Performed By: लता मंगेशकर, एस.पी.बालासुब्रमन्यम

दीदी तेरा देवर दिवाना
हाय राम कुड़ियों को डाले दाना
धंधा है ये उसका पुराना
हाय राम कुड़ियों को डाले दाना

मैं बोली के लाना, तू इमली का दाना
मगर वो छुहारे ले आया दिवाना
मैं बोली की मचले, है दिल मेरा हाय
वो खरबुजा लाया जो नीम्बू मँगाये
पगला है कोई उसको बताना
हाय राम कुड़ियों को…

मैं बोली की लाना, तू मिट्टी पहाड़ी
मगर वो बताशे ले आया अनाड़ी
मैं बोली के ला दे, मुझे तू खटाई
वो बाज़ार से ले के आया मिठाई
मुश्किल है यूं मुझको फँसाना
हाय राम कुड़ियों को…

भाभी तेरी बहना को माना
हाय राम कुड़ियों का है ज़माना
रब्बा मेरे मुझको बचाना
हाय राम कुड़ियों का है ज़माना

हुकूम आपका था, जो मैंने न माना
खतावार हूँ मैं, न आया निभाना
सज़ा जो भी दोगी, वो मँज़ूर होगी
अजी मेरी मुश्किल अभी दूर होगी
बन्दा है ये खुद से बेगाना
हाय राम कुड़ियों का है ज़माना…

 

पहला पहला प्यार है – Pehla Pehla Pyar Hai (Hum Aapke Hain Koun)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-देव कोहली
Singers/Performed By: एस.पी.बालासुब्रमन्यम

पहला पहला प्यार है
पहली पहली बार है
जान के भी अन्जाना
कैसा मेरा यार है

उसकी नज़र, पलकों की चिलमन से मुझे देखती
उसकी हया, अपनी ही चाहत का राज़ खोलती
छुप के करे जो वफ़ा, ऐसा मेरा यार है
पहला पहला प्यार है…

वो है निशा, वो ही मेरी ज़िंदगी की भोर है
उसे है पता, उसके ही हाथों में मेरी डोर है
सारे जहां से जुदा, ऐसा मेरा प्यार है
पहला पहला प्यार है…

 

वाह वाह राम जी – Wah Wah Ram Ji (Hum Aapke Hain Koun)

Movie Name /Album Name- हम आपके हैं कौन (1994)
Music Producer/Music By- राम लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-रविंदर रावल
Singers/Performed By: लता मंगेशकर, एस.पी.बालासुब्रमन्यम

वाह वाह राम जी
जोड़ी क्या बनाई
भैया और भाभी को
बधाई हो बधाई
सब रसमों से बड़ी है जग में
दिल से दिल की सगाई

आपकी कृपा से ये
शुभ घड़ी आई
जीजी और जीजा को
बधाई हो बधाई
सब रसमों से बड़ी है जग में
दिल से दिल की सगाई
वाह वाह राम जी…

मेरे भैया जो, चुप बैठे हैं
देखो भाभी ये, कैसे ऐंठे हैं
ऐसे बड़े ही भले हैं
माना थोड़े मनचले हैं
पर आप के सिवा कहीं भी न फिसले हैं
देखो देखो ख़ुद पे, जीजी इतराई
भैया और भाभी को
बधाई हो बधाई
सब रसमों से…

सुनो जीजाजी, अजी आप के लिये
मेरी जीजी ने, बड़े तप हैं किये
मन्दिरों में किये फेरे
पूजा साँझ-सवेरे
तीन लोक तैंतीस देवों को ये रही घेरे
जैसे मैंने माँगी थी, वैसी भाभी पाई
जीजी और जीजा को
बधाई हो बधाई
सब रसमों से…

कहना ही क्या – Kehna Hi Kya (K.S.Chithra, Bombay)

Movie Name /Album Name- बॉम्बे (1995)
Music Producer/Music By- ए.आर.रहमान
Lyrics Writer/Lyrics by-महबूब
Singers/Performed By: के.एस.चित्रा

कहना ही क्या
ये नैन एक अन्जान से जो मिले
चलने लगे, मोहब्बत के जैसे ये सिलसिले
अरमां नये ऐसे दिल में खिले
जिनको कभी मैं ना जानूँ
वो हमसे, हम उनसे कभी ना मिले
कैसे मिले दिल ना जानूँ
अब क्या करें, क्या नाम लें
कैसे उन्हे मैं पुकारूँ

पहली ही नज़र में कुछ हम, कुछ तुम
हो जातें है यूँ गुम
नैनों से बरसे रिम-झिम, रिम-झिम
हमपे प्यार का सावन
शर्म थोड़ी-थोड़ी हमको, आये तो नज़रें झुक जाएँ
सितम थोड़ा-थोड़ा हमपे, शोख हवा भी कर जाये
ऐसी चली, आँचल उड़े, दिल में एक तूफ़ान उठे
हम तो लुट गये खड़े ही खड़े
कहना ही क्या…

इन होंठों ने माँगा सरगम, सरगम
तू और तेरा ही प्यार है
आँखें ढूंढे है जिसको हर दम, हर दम
तू और तेरा ही प्यार है
महफ़िल में भी तन्हां है दिल ऐसे, दिल ऐसे
तुझको खोना दे, डरता है ये ऐसे, ये ऐसे
आज मिली, ऐसी खुशी, झूम उठी दुनिया ये मेरी
तुमको पाया तो पाई ज़िन्दगी
कहना ही क्या…

 

तुम तो ठहरे परदेसी – Tum To Thehre Pardesi (Altaf Raja)

Movie Name /Album Name- तुम तो ठहरे परदेसी (1998)
Music Producer/Music By- मोहम्मद शफी नियाज़ी
Lyrics Writer/Lyrics by-ज़हीर आलम
Singers/Performed By: अल्ताफ राजा

तुम तो ठहरे परदेसी, साथ क्या निभाओगे
सुबह पहली गाड़ी से, घर को लौट जाओगे
सुबह पहली गाड़ी से…

जब तुम्हें अकेले में मेरी याद आएगी
(खिंचे खिंचे हुए रहते हो, ध्यान किसका है
ज़रा बताओ तो ये इम्तेहान किसका है
हमें भुला दो मगर ये तो याद ही होगा
नई सड़क पे पुराना मकान किसका है)
जब तुम्हें अकेले में मेरी याद आएगी
आँसुओं की बारिश में तुम भी भीग जाओगे
तुम तो ठहरे परदेसी…

ग़म की धूप में दिल की हसरतें न जल जाएं
(तुझको देखेंगे सितारे तो ज़िया मांगेंगे
और प्यासे तेरी जुल्फों से घटा मांगेंगे
अपने कांधे से दुपट्टा न सरकने देना
वरना बूढ़े भी जवानी की दुआ मांगेंगे (ईमान से))
ग़म की धूप में दिल की हसरतें न जल जाएं
गेसुओं के साए में कब हमें सुलाओगे
तुम तो ठहरे परदेसी…

मुझको क़त्ल कर डालो शौक़ से मगर सोचो
(इस शहर-ए-नामुराद की इज़्ज़त करेगा कौन
अरे हम भी चले गए तो मुहब्बत करेगा कौन
इस घर की देखभाल को वीरानियां तो हों
जाले हटा दिये तो हिफ़ाज़त करेगा कौन)
मुझको क़त्ल कर डालो शौक़ से मगर सोचो
मेरे बाद तुम किस पर ये बिजलियां गिराओगे
तुम तो ठहरे परदेसी…

यूं तो ज़िंदगी अपनी मैकदे में गुज़री है
(अश्क़ों में हुस्न-ओ-रंग समोता रहा हूँ मैं
आंचल किसी का थाम के रोता रहा हूँ मैं
निखरा है जा के अब कहीं चेहरा शऊर का
बरसों इसे शराब से धोता रहा हूँ मैं)
(बहकी हुई बहार ने पीना सिखा दिया
पीता हूँ इस गरज़ से के जीना है चार दिन
मरने के इंतज़ार ने पीना सीखा दिया)
यूं तो ज़िंदगी अपनी मैकदे में गुज़री है
इन नशीली आँखों से कब हमें पिलाओगे
तुम तो ठहरे परदेसी…

क्या करोगे तुम आखिर कब्र पर मेरी आकर
जब तुम से इत्तेफ़ाकन मेरी नज़र मिली थी
अब याद आ रहा है, शायद वो जनवरी थी
तुम यूं मिलीं दुबारा, फिर माह-ए-फ़रवरी में
जैसे कि हमसफ़र हो, तुम राह-ए-ज़िंदगी में
कितना हसीं ज़माना, आया था मार्च लेकर
राह-ए-वफ़ा पे थीं तुम, वादों की टॉर्च लेकर
बाँधा जो अहद-ए-उल्फ़त अप्रैल चल रहा था
दुनिया बदल रही थी मौसम बदल रहा था
लेकिन मई जब आई, जलने लगा ज़माना
हर शख्स की ज़ुबां पर, था बस यही फ़साना
दुनिया के डर से तुमने, बदली थीं जब निगाहें
था जून का महीना, लब पे थीं गर्म आहें
जुलाई में जो तुमने, की बातचीत कुछ कम
थे आसमां पे बादल, और मेरी आँखें पुरनम
माह\-ए\-अगस्त में जब, बरसात हो रही थी
बस आँसुओं की बारिश, दिन रात हो रही थी
कुछ याद आ रहा है, वो माह था सितम्बर
भेजा था तुमने मुझको, तर्क़-ए-वफ़ा का लेटर
तुम गैर हो रही थीं, अक्टूबर आ गया था
दुनिया बदल चुकी थी, मौसम बदल चुका था
जब आ गया नवम्बर, ऐसी भी रात आई
मुझसे तुम्हें छुड़ाने, सजकर बारात आई
बेक़ैफ़ था दिसम्बर, जज़्बात मर चुके थे
मौसम था सर्द उसमें, अरमां बिखर चुके थे
लेकिन ये क्या बताऊं, अब हाल दूसरा है
अरे वो साल दूसरा था, ये साल दूसरा है
क्या करोगे तुम आखिर कब्र पर मेरी आकर
थोड़ी देर रो लोगे और भूल जाओगे
तुम तो ठहरे परदेसी…

 

सपने में मिलती है – Sapne Mein Milti Hai (Satya, Asha, Suresh)

Movie Name /Album Name- सत्या (1998)
Music Producer/Music By- विशाल भारद्वाज
Lyrics Writer/Lyrics by-गुलज़ार
Singers/Performed By: आशा भोंसले, सुरेश वाडेकर

सपने में मिलती है
ओ कुड़ी मेरी, सपने में मिलती है
सारा दिन घुँघटे में बंद गुड़िया सी
अँखियों में घुलती है

सपने में मिलता है
ओ मुण्डा मेरा, सपने में मिलता है
सारा दिन सड़कों पे खाली रिक्शे सा
पीछे-पीछे चलता है

कोरी है, करारी है
भून के उतारी है
कभी-कभी मिलती है
हो कुड़ी मेरी…

ऊँचा लम्बा कद है
चौड़ा भी तो हद है
दूर से दिखता है
ओ मुण्डा मेरा…
अरे देखने में तगड़ा है
जंगल से पकड़ा है
सींग दिखाता है
सपने में मिलता है…

पाजी है, शरीर है
घूमती लकीर है
चकरा के चलती है
सपने में मिलती है…

अरे कच्चे पक्के बेरों से
चोरी के शेरों से
दिल बहलाता है
रे मुण्डा मेरा…

हाय गोरा चिट्टा रंग है
चाँद का पलंग है
गोरा चिट्टा रंग है
चाँदनी में धुलती है
हो कुड़ी मेरी…

दूध का उबाल है
हँसी तो कमाल है
मोतियों में तुलती है
सपने में मिलती है…

नीम शरीफ़ों के
एंवें लतीफ़ों के क़िस्से सुनाता है
सपने में मिलता है…

ये लड़का है दीवाना – Ye Ladka Hai Deewana (Kuch Kuch Hota Hai)

Movie Name /Album Name- कुछ कुछ होता है (1998)
Music Producer/Music By- जतिन-ललित
Lyrics Writer/Lyrics by-समीर
Singers/Performed By: उदित नारायण, अलका याग्निक

ये कैसा लड़का है
ये कैसी लड़की है
इसका मैं क्या करूं
इससे में क्या कहूँ?
ये लड़ता है
अकड़ती है
झगड़ता है
बिगड़ती है
दीवाना है
दीवानी है
But He Is Your Best Friend. Yeah
But She Is Your Best Friend. Yeah

हाय हाय रे हाय ये लड़का
हाय हाय रे हाय
करता नादानियाँ क्यूँ पूछो तो हाय
कभी ये हमसे लड़ता है, कभी झगड़ता है
कोई पास इसके ना आना
ये लड़का है दीवाना

हाय हाय रे हाय ये लड़की
हाय हाय रे हाय
करती नादानियाँ क्यूँ पूछो तो हाय
कभी ये हमसे लड़ती है, कभी अकड़ती है
करो दूर से छेड़खानी
ये लड़की है दीवानी

इसकी बातें, यही जाने
कोई भी तो जाने ना
ऐसी वैसी, कैसी है ये
कोई पहचाने ना
तो भागो, ओ यारों
कर ना दे शैतानी
ये लड़की है दीवानी…

आते जाते, छेड़े हमको
के माने ना ये कहना
देखो देखो, पागल है ये
हाँ बचके ज़रा रहना
ये ऐसा है फिर भी
अपना इसको माना
ये लड़का है दीवाना…

 

छैय्याँ छैय्याँ – Chhaiyyan Chhaiyyan (Sukhwinder Singh, Sapna Awasthi, Dil Se)

Movie Name /Album Name- दिल से (1998)
Music Producer/Music By- ए.आर.रहमान
Lyrics Writer/Lyrics by-गुलज़ार
Singers/Performed By: सुखविंदर सिंह, सपना अवस्थी

जिनके सर हो इश्क़ की छाँव
पाँव के नीचे जन्नत होगी
जिनके सर हो इश्क़ की छाँव

चल छैय्याँ छैय्याँ छैय्याँ छैय्याँ
सारे इश्क़ की छाँव, चल छैय्याँ छैय्याँ
पाँव जन्नत चले, चल छैय्याँ छैय्याँ
चल छैय्याँ छैय्याँ छैय्याँ छैय्याँ

वो यार है जो खुशबू की तरह
जिसकी ज़ुबाँ उर्दू की तरह
मेरी शाम रात, मेरी क़ायनात
वो यार मेरा सैंय्या सैंय्या
चल छैय्याँ छैय्याँ…

गुलपोश कभी इतराये कहीं
महके तो नज़र आ जाये कहीं
ताबीज़ बना के पहनूँ उसे
आयत की तरह मिल जाये कहीँ
वो यार है जो ईमाँ की तरह
मेरा नग़मा वही, मेरा कलमा वही
मेरा नग़मा नग़मा, मेरा कलमा कलमा
यार मिसाल-ए-आस चले
पाँव के तले फ़िरदौस चले
कभी डाल-डाल, कभी पात-पात
मैं हवा पे ढूँढूँ उसके निशाँ
सारे इश्क़ की छाँव…

मैं उसके रूप का शहदाई
वो धू- छाँव सा हरजाई
वो शोख का रंग बदलता है
मैं रंग रूप का सौदाई
जिनके सर हो इश्क़ की छाँव
पाँव के नीचे जन्नत होगी
शाम रात, मेरी कायनात
वो यार मेरा सैय्याँ सैय्याँ
चल छैय्याँ छैय्याँ…

जिया जले – Jiya Jale (Lata Mangeshkar, Dil Se)

Movie Name /Album Name- दिल से (1998)
Music Producer/Music By- ए.आर.रहमान
Lyrics Writer/Lyrics by-गुलज़ार
Singers/Performed By: लता मंगेशकर

जिया जले, जाँ जले नैनों तले
धुआँ चले, धुआँ चले

(मळयाळम)
पुन्चिरी थनु कोंचीको
मुन्थिरी मुत्थम चिन्थीको
मंचनी वर्ण सुंदरी वावे
थान्कीनाका
थाकधिमी आडुम थन्कानीलावे, होय

थंक कोलूसल्ले
कुरुम कुईलल्ले
आदण मयीलल्ले

जिया जले, जाँ जले नैनों तले
धुआँ चले, धुआँ चले
रात भर धुआँ चले
जानूँ ना, जानूँ ना, जानूँ ना सखी री
जिया जले…

देखते हैं तन मेरा, मन में चुभती है नज़र
होंठ सिल जाते उनके, नर्म होंठों से मगर
गिनती रहती, हूँ मैं अपनी, करवटों के सिलसिले
क्या करूँ, कैसे कहूँ, रात कब कैसे ढले
जिया जले…

(मळयाळम)
हे, कुरुवनीकिलिये, कुरुवनीकिलिये
कुकुरू कुरूकुरू कूकी कुरुकी, कुन्निमरथिल उयल आड़ी
कोडुम ओरिक्के कूटू विलीकुन्ने
मारण निन्ने कूकी कुरुकी कूटू विलीकुन्ने

थंक कोलूसल्ले
कुरुम कुईलल्ले
आदण मयीलल्ले

अंग-अंग में जलती हैं, दर्द की चिंगारियाँ
मसले फूलों की महक में, तितलियों की क्यारियाँ
रात भर बेचारी मेहन्दी, पिसती है पैरों तले
क्या करूँ, कैसे कहूँ, रात कब कैसे ढले
जिया जले…

मैय्या यशोदा ये तेरा – Maiyya Yashoda Ye Tera (Hum Saath Saath Hain)

Movie Name /Album Name- हम साथ साथ हैं (1999)
Music Producer/Music By- राम-लक्ष्मण
Lyrics Writer/Lyrics by-रविन्द्र रावल
Performed By:अलका याग्निक, अनुराधा पौड़वाल, कविता कृष्णमूर्ति

मैय्या यशोदा ये तेरा कन्हैया
पनघट पे मेरी पकड़े है बैंया
तंग मुझे करता है, संग मेरे लड़ता हाय
रामजी की कृपा से मैं बची

गोकुल की गलियों में, जमुना किनारे
वो मोहे कनकनिया छुप-छुपके मारे
नटखट अदाएं, सूरत है भोली
होली में मेरी, भिगोये वो चोली
बैययाँ ना छोड़े, कलैय्याँ मरोड़े
पैय्याँ पडूं, फिर भी पीछा ना छोड़े
मीठी-मीठी बातों में मुझको फंसाये हाय
रामजी की कृपा से…

जब-जब बजाए मोहन मुरलिया
छन-छन छनकती है मेरी पायलिया
नैनों से जब वो करे छेड़खानी
दिल थामे रह जाए प्रेम दीवानी
सुधबुध गंवाई, नींदें उड़ाई
जो करने बैठी थी वो कर ना पाई
बड़ी मुश्किल से दिल को संभाला हाय
रामजी की कृपा से…

गोकुल का कान्हा रे दिल में समाया
मैं भाग्यशाली इन्हें मैंने पाया
माना की सबके हैं ये कन्हैय्या
कहलाएँगे पर तुम्हारे ही मैय्या
प्यारा पिया है, तुमने दिया है
ममता के आँचल में हमको लिया है
चरणों में तेरे ओ माँ हमको रहना है
रामजी की कृपा से…

ओ सनम – O Sanam (Lucky Ali)

Movie Name /Album Name- सुनो (1996)
Music Producer/Music By- लकी अली
Lyrics Writer/Lyrics by-स्येद असलम नूर
Singers/Performed By: लकी अली

शाम सवेरे तेरी यादें आती हैं
आके दिल को मेरे यूँ तड़पाती हैं
ओ सनम मोहब्बत की कसम
मिलके बिछड़ना तो दस्तूर हो गया
यादों में तेरी मैं जो दूर हो गया
ओ सनम तेरी यादों की कसम

समझे ज़माना के दिल है खिलौना
जाना है अब क्या है दिल का लगाना
नज़रों से ना यूँ हमको गिराना
मर भी गए तो भूल न जाना
आँखों में बसी हो पर दूर हो कहीं
दिल के करीब हो ये मुझको है यकीं
ओ सनम तेरे प्यार की कसम

देखा है ऐसे भी – Dekha Hai Aise Bhi (Lucky Ali, Sifar)

Movie Name /Album Name- सिफर (1998)
Music Producer/Music By- लकी अली
Lyrics Writer/Lyrics by-स्येद असलम नूर
Singers/Performed By: लकी अली

घर को मैं निकला, तन्हां अकेला
साथ मेरे कौन है, यार है मेरा
जो भी करना था, कर आ गया मैं
प्यार को ही मानते, चलते जाना
देखा है ऐसे भी, किसी को ऐसे ही
अपने भी दिल में बसाये हुए कुछ इरादे हैं
दिल के किसी कोने में भी कुछ ऐसे ही वादे हैं
इनको लिए जब हम चले, नज़ारे भी हमसे मिले
देखा है ऐसे भी…

हँसते हँसाते यूँ सब को मनाते हम जायेंगे
बरसों की दूरी को मिलके हम साथ मिटायेंगे
प्यार रहे उनके लिए, जो ढूंढे वो उनको मिले

थोड़ा सा गरज है, थोड़ी सी समझ है
चाहतों के दायरे में इतना फ़रज़ है
कोई कहता है, कि घर आ गया है
आरज़ू भी अर्ज़ है, पढ़ते जाना
देखा है ऐसे भी…
दिल के झरोखों में अब भी मोहब्बत के साये हैं
रह जाएँ जो बाद में भी हमारे वो पाए हैं
इनके लिए अब तक चलें, हज़ारों में हम भी मिले

 

तेरी यादें आती हैं – Teri Yaadein Aati Hain (Lucky Ali)

Movie Name /Album Name- सिफर (1998)
Music Producer/Music By- लकी अली
Lyrics Writer/Lyrics by-स्येद असलम नूर
Singers/Performed By: लकी अली

तेरी यादें आती हैं, तेरी यादें आती हैं
तेरी यादें आती हैं, कुछ बातें आती हैं

दिल में तलब है, लब पे तराना
किसी की तलाश में ये गुज़रे ज़माना
कल है कहाँ दो पल का बहाना
नहीं था यकीं हम हुए तो रवाना
तेरी यादें

दुनिया के रास्तों में
एक है ज़रिया, एक है ज़रिया
कहता दीवाना ये सुन तो ले
दरिया से जा मिली है
कितनी ही नदियाँ, कितनी ही नदियाँ
कहता दीवाना ये सुन तो ले
ऐसा समां भी न देखा है
मौसम ये बहका और महका है
तेरी यादें…

क़हीं रंग में ढला है कोई पैमाना
कहीं आसमां झुका है, ज़मीं है सराना
इन्हीं राह से गुज़रते हम रोजाना
किसका पता लिए हम चले किस ठिकाना

दिल है नादान अपना
कहती है दुनिया, कहती है दुनिया
कैसा दीवाना ये सुन तो ले
हम से हैरान दुनिया
कैसी नगरियाँ कैसी नगरियाँ
कहता दिवाना ये, सुन तो ले
धीरे-धीरे अब ये सहना है
आँखें बिछाये अब रहना है
तेरी यादें…

 

नहीं रखता दिल में – Nahin Rakhta Dil Mein (Lucky Ali)

Movie Name /Album Name- सिफर (1998)
Music Producer/Music By- लकी अली
Lyrics Writer/Lyrics by-स्येद असलम नूर
Singers/Performed By: लकी अली

नहीं रखता दिल में कुछ रखता हूँ जुबां पर
समझे ना अपने भी कभी
कह नहीं सकता मैं क्या सहता हूँ छुपा कर
इक ऐसी आदत है मेरी
सभी तो हैं जिनसे मिलता हूँ
सही जो है इनसे कहता हूँ
जो समझता हूँ

मैंने देखा नहीं रंग दिल आया है सिर्फ अदा पर
इक ऐसी चाहत है मेरी
बहारों के घेरे से लाया मैं दिल सजा कर
इक ऐसी सोहबत है मेरी
साये में छाए रहता हूँ
आँखें बिछाये रहता हूँ
जिनसे मिलता हूँ

कितनो को देखा है हमने यहाँ
कुछ सिखा है हमने उनसे नया

पहले फुरसत थी अब हसरतें समाकर
इक ऐसी उलझन है मेरी
खुद चलकर रुकता हूँ जहाँ जिस जगह पर
इक ऐसी सरहद है मेरी
कहने से भी मैं डरता हूँ
अपनों के धुन में रहता हूँ
कर क्या सकता हूँ

दे सकता हूँ मैं थोडा प्यार यहाँ पर
जितनी हैसियत है मेरी
रह जाऊं सबके दिल में दिल को बसाकर
इक ऐसी नियत है मेरी
हो जाये तो भी राज़ी हूँ
खो जाऊं तो मैं बाकी हूँ
यूँ समझता हूँ

रस्ते न बदले न बदला जहां
फिर क्यों बदलते कदम हैं यहाँ

Leave a Reply