ये गीत तुझे कैसे दे दूं -यों गाया है हमने तुमको -कुमार विश्वास-Hindi Poetry-हिंदी कविता -Hindi Poem | Hindi Kavita Kumar Vishwas 

ये गीत तुझे कैसे दे दूं -यों गाया है हमने तुमको -कुमार विश्वास-Hindi Poetry-हिंदी कविता -Hindi Poem | Hindi Kavita Kumar Vishwas

 

ये गीत तुझे कैसे दे दूं
ये गीत ह्रदय कि प्यास सखे !
ये गीत मेरी परिभाषा हैं
ये गीत मेरा इतिहास सखे !

ये गीत मेरे मन कि खुशबू
ये गीत तेरे तन का चन्दन
तू राधा-सी मैं कान्हा-सा
ये गीत हैं जैसे वृन्दावन
जो एक दिवस पूरा होगा
ये गीत वही, विश्वास सखे !

ये गीत मेरी परिभाषा हैं
ये गीत मेरा इतिहास सखे!

ये गीत बसंती फागुन से
ये गीत मचलते सावन से
ये गीत ग्रीष्म से, पतझर से
हेमंत-शिशिर के आँगन से
ये गीत विरह वर्षा ऋतु हैं
ये गीत मिलन मधुमास सखे !
ये गीत मेरी परिभाषा है
ये गीत मेरा इतिहास सखे !

ये गीत बिकाऊ माल नहीं
ये गीत ह्रदय कि निधियां हैं
ये गीत अधूरे सपने हैं
ये गीत पुरानी सुधियाँ हैं
ये गीत मेरी धरती माँ हैं
ये गीत मेरा आकाश सखे !
ये गीत मेरी परिभाषा हैं
ये गीत मेरा इतिहास सखे!
ये गीत तुझे कैसे दे दूं
ये गीत ह्रदय कि प्यास सखे !
ये गीत मेरी परिभाषा हैं
ये गीत मेरा इतिहास सखे !

Leave a Reply