मर्दाना भगत सिंह-शहीद भगत सिंह-Hindi Poetry-कविता-Hindi Poem|Kavita Shaheed Bhagat Singh 

मर्दाना भगत सिंह-शहीद भगत सिंह-Hindi Poetry-कविता-Hindi Poem|Kavita Shaheed Bhagat Singh

सरताज नौजवानों का मर्दाना भगत सिंह ।
आजादी का दीवाना था मर्दाना भगत सिंह ।

होती भी मीटिंग असेंबली में जिस दम फेंका बम,
बम केस में पकड़ा गया मस्ताना भगत सिंह ।

राजगुरु सुखदेव दोनों मित्रों को लेकर साथ,
फांसी चढ़ स्वर्ग सिधारा मस्ताना भगत सिंह ।

(श्रीयुत प्रताप सव्तंतर)

This Post Has One Comment

Leave a Reply