भारत के लिए भगवन का एक वरदान है गंगा -गीत-कवि प्रदीप-Hindi Poetry-हिंदी कविता -Hindi Poem | Hindi Kavita Kavi Pradeep

भारत के लिए भगवन का एक वरदान है गंगा -गीत-कवि प्रदीप-Hindi Poetry-हिंदी कविता -Hindi Poem | Hindi Kavita Kavi Pradeep

 

भारत के लिए भगवन का
एक वरदान है गंगा
सच पूछो तो इस देश की
पहचान है गंगा
हर हर गंगे …………..

गिरिराज हिमालय की बेटी
ये महान है गंगा
भारत माता के मस्तक का
अभिमान है गंगा

इस धरती के बेटो पर
एक अहसान है गंगा
लाखो करोडो होठो की
मुस्कान है गंगा

गंगा ही हिंदुस्तान
हिंदुस्तान है गंगा
सच पूछो तो इस देश की
पहचान है गंगा
हर हर गंगे …………..

है कोटि कोटि देवों के मंदिर
इसके किनारे
मंगल ध्वनियां होती है
जहा पर सांझ सतरे
जुग जुग से इस माता ने
हमारे भाग्य सवेरे
ये जहा गयी बन गए
वह पर तीरथ प्यारे

इस अपनी प्यारी जन्म भूमि
की जान है गंगा
सच पूछो तो इस देश की
पहचान है गंगा
हर हर गंगे …………..

भारत के लिए भगवन का
एक वरदान है गंगा
सच पूछो तो इस देश की
पहचान है गंगा
हर हर गंगे ………….

Leave a Reply