तितली- योगेश छिब्बर ‘आनन्द’ -Hindi Poetry-कविता-Hindi Poem | Kavita Yogesh Chhibber Anand 

तितली- योगेश छिब्बर ‘आनन्द’ -Hindi Poetry-कविता-Hindi Poem | Kavita Yogesh Chhibber Anand

 

तितली जब भी उड़ेगी
किसी फूल की तरफ उड़ेगी

तितली जब भी उतरेगी
किसी फूल पर उतरेगी

तितली जब भी नष्ट होगी
कहीं फूलों के बीच नष्ट होगी

उसे जीना आता है
उसे मरना आता है।

 

Leave a Reply