जन्मभूमि माँ-गीत-कवि प्रदीप-Hindi Poetry-हिंदी कविता -Hindi Poem | Hindi Kavita Kavi Pradeep

जन्मभूमि माँ-गीत-कवि प्रदीप-Hindi Poetry-हिंदी कविता -Hindi Poem | Hindi Kavita Kavi Pradeep

जन्मभूमि माँ
मैं यहाँ तू वहाँ
तुझसे दूर जा रहा मैं जाने कहाँ
जन्मभूमि माँ …

ये जो अपने बीच है दूरी
ये है माँ किस्मत की मजबूरी
तू तो है जननी, मेरी आत्मा
जन्मभूमि माँ
मैं यहाँ तू वहाँ …

तुझसे शायद अब ना मिल पाऊँ
रोना मत माँ जो न घर आऊँ
है अभी बाकी मेरा इम्तेहान
जन्मभूमि माँ
मैं यहाँ तू वहाँ

Leave a Reply