कता-पंजाबी कविता -फ़ैज़ अहमद फ़ैज़-Hindi Poetry-कविता-Hindi Poem | Kavita Faiz Ahmed Faiz

कता-पंजाबी कविता -फ़ैज़ अहमद फ़ैज़-Hindi Poetry-कविता-Hindi Poem | Kavita Faiz Ahmed Faiz

अज्ज रात इक रात दी रात जी के
असां जुग हज़ारां जी लिता ए
अज्ज रात अंमृत दे जाम वांगूं
इन्हां हत्थां ने यार नूं पी लिता ए

Leave a Reply