एलर्जिक रंग-प्रदीप सिंह-Hindi Poetry-हिंदी कविता -Hindi Poem | Hindi Kavita Pradeep Singh

एलर्जिक रंग-प्रदीप सिंह-Hindi Poetry-हिंदी कविता -Hindi Poem | Hindi Kavita Pradeep Singh

 

दिवाली का
फुस्स पटाखा हूँ

होली का –
एलर्जिक रंग
लोहड़ी की –
गीली लकड़ी

बैसाख की –
बेमौसम बरसात हूँ

मैं सिर्फ
विकलांग नहीं हूँ।

 

Leave a Reply